खण्डूजा अस्पताल में आगजनी…खुली फायर ब्रिगेड की पोल…स्थानीय लोगों ने किया आग को काबू

IMG-20171017-WA0019बिलासपुर— गांधी चौक के पास स्थित खन्डूजा आर्थोकेयर अस्पातल में आग लगने की खबर है। आग अस्पताल के ऊपरी मंजिल में लगी है। जिस मजिल में आग लगी है उसके नीचे मरीज भर्ती है। जानकारी के अनुसार ऊपरी मंजिल में अस्पताल के कर्मचारी लोग रहते हैं। आग करीब आधे घण्टे पहले लगी है । आग लगने का कारण फिलहाल अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। सूचना मिलते ही नगर सेना की फायरब्रिगेड टीम मौके पर पहुंच गयी ।

                      करीब आधा घण्टे पहले गांधी चौक के पास सिटी डिस्पेन्सरी के सामने खण्डूजा आर्थोकेयर अस्पताल की उपरी मंजिल में आग लगने से लोगों में हड़कम्प की स्थिति बन गयी। आग लगने के कारण का अभी पता नहीं चल सका है। कयास लगाया जा रहा है कि आग शार्ट सर्किट से लगी है। आगजनी की जानकारी मिलते ही नगर सेना की बीमार दमकल गाड़ियां कार्यालय से मौके के लिए रवाना तो हुयीं। लेकिन खण्डूजा अस्पातल से करीब 100 दूर पहुंंचकर खड़ी हो गयी। लोगों ने बताया कि गाड़ी खराब हो गयी। इसके बाद स्थानीय लोगों ने धक्का देकर फायरब्रिगेड की गाड़ी को खण्डूजा अस्पताल तक पहुंचाया।

                          पाइप छोटी होने के चलते पानी को ऊपरी मंजिल तक पहुंचाने में फायरब्रिगेड की टीम को काफी परेशानी हुई। जिसके कारण अस्पताल प्रबंधन और स्थानीय लोग में बेचैनी देखनी को मिली है।

                           इसी बीच दमकल की दूसरी गाड़ी भी मौक पर पहुंच गयी। लेकिन पानी छोड़ते ही पाइप फट गयी। टैंकर का सारा पानी सड़क पर बहने लगा। लोगों के प्रयास से पाइप की मरहम पट्टी कर किसी तरह आग पर काबू पाया गया। पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं छोड़े जाने से आग को काबू करने में देरी हुई है।

किसी प्रकार की जनहानी नहीं

                        खबर लिखे जाने तक आगजनी की घटना में किसी प्रकार की जन हानि नहीं होने की खबर है। बताया जा रहा है कि आगजनी के समय बीच की मंजिल में कुछ मरीज भर्ती थे। लेकिन सभी लोग सुरक्षित हैं। आगजनी के बाद अफरातफरी माहौल देखने को मिला। अन्दर और बाहर के लोग मरीजों की चिंता को लेकर काफी परेशान नजर आए। लेकिन किसी को नुकसान नहीं पहुंचा है। आगजनी में अस्पताल प्रबंधन को काफी आर्थिक नुकसान पहुंचा है। आग लगने की जानकारी मिलते ही सिटी कोतवाली समेत अन्य थानों के जवान मौके पर तत्काल पहुंचकर व्यवस्था को बनाए रखा।

फिर सामने आयी लापरवाही

IMG-20171017-WA0020(1)स्थानीय कांग्रेस पार्षद शैलेन्द्र जायसवाल ने निगम प्रशासन की लापरवाही पर निशाना साधा है। उन्होने बताया कि एक महीने पहले भारत होजियरी में आग लगने से व्यापार को बहुत नुकसान हुआ। बहुत प्रयास के बाद भी समय पर आग को नहीं बुझाया जा सका। जिसके कारण होजियरी मार्केट को बहुत आर्थिक नुकसान हुआ है। इस बार भी ऐसा ही कुछ होता नजर आया। लेकिन स्थानीय लोगों के प्रयास से आग पर जल्द ही काबू पा लिया गया।

शैेलेन्द्र ने बताया कि निगम प्रशासन ने पिछली गलतियों से कुछ नहीं सीखा है। फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां आयी तो जरूर लेकिन किसी काम की साबित नहीं हुई। एक गाड़ी तो घटना स्थल तक नहीं पहुंची। दूसरी का पाइप फट गया। जिसके कारण टैंकर का सारा पानी सड़क पर बहता नजर आया।

                  शैलेन्द्र ने कहा कि लोगों के प्रयास से आग पर जल्द ही काबू पा लिया गया है। इस बात की खुशी है कि किसी प्रकार की जनहानि नहीं हुई। इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि शहर की सु्रक्षा व्यवस्था रामभरोसे है। बिलासपुर को स्मार्ट सिटी बनाने की बात हो रही है। लेकिन निगम के पास इतनी ताकत नहीं है कि शहर की जनता को आग पानी और अन्य समस्याओं से बचा सके। पांच महीने पहले नगरसेना को फायरब्रिगेड की जिम्मेदार दी गयी। लेकिन आज फायर ब्रिगेड गाड़ियों की जो स्थिति देखने को मिली। उसके बाद बिलासपुर की जनता की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर केवल तरस ही खाया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>