सरकार की हर कामयाबी का श्रेय प्रदेश की मेहनतकश जनता को-डॉ. रमन सिंह

raman cabinateरायपुर।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने सात दिसम्बर को राज्य में अपनी सरकार की तीन पारियों के 14 वर्ष पूर्ण होने और 15वें वर्ष में प्रवेश के अवसर पर जनता के प्रति आभार व्यक्त किया है और प्रदेशवासियों को बधाई दी है। उन्होंने आज यहां जारी संदेश में कहा है कि प्रदेशवासियों के भरपूर स्नेह, सहयोग और अपार जनसमर्थन से राज्य सरकार ने देखते ही देखते 14 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं। डॉ. सिंह ने इस दौरान सरकार को मिली हर कामयाबी का श्रेय प्रदेश की मेहनतकश जनता को दिया है। डॉ. रमन सिंह ने कहा विगत 14 वर्षो की इस यात्रा में छत्तीसगढ़ ने देश के सर्वाधिक तेज गति से आगे बढ़ने वाले राज्य के रूप में पहचान बनायी है और राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठा हासिल की है। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र में नई सरकार के गठन के बाद ‘सबके साथ सबका विकास‘ की भावना के अनुरूप छत्तीसगढ़ जैसे नये राज्य में भी विकास की रफ्तार तेज हो गई है।

                        उल्लेखनीय है कि डॉ. रमन सिंह ने वर्ष 2003 में छत्तीसगढ़ विधानसभा के प्रथम आम चुनाव में जनादेश मिलने के बाद पहली बार सात दिसम्बर 2003 को राजधानी रायपुर के पुलिस परेड मैदान में आयोजित समारोह में हजारों लोगों के बीच शपथ ग्रहण कर मुख्यमंत्री पद का कार्यभार संभाला था। उन्होंने वर्ष 2008 में विधानसभा के दूसरे और वर्ष 2013 में हुए तीसरे आम चुनाव में भारी बहुमत से जनादेश लेकर अपनी सरकार का गठन किया। दूसरी पारी में 12 दिसम्बर 2008 को और तीसरी पारी में भी 12 दिसम्बर 2013 को उन्होंने रायपुर के पुलिस लाईन मैदान में आम जनता के बीच शपथ ग्रहण कर सरकार की बागडोर संभाली। उनके तीसरे कार्यकाल के चार वर्ष इस महीने की 12 तारीख को पूर्ण हो रहे हैं। इसे मिलाकर राज्य भर में ‘14 साल बेमिसाल’ के जोशीले नारे के साथ कई आयोजनों की तैयारी की जा रही है।
मुख्यमंत्री ने अपनी सरकार के 15वें वर्ष में प्रवेश का उल्लेख करते हुए आज कहा कि व्यापक जनसमर्थन से हमे छत्तीसगढ़ महतारी की सेवा के लिए शक्ति मिलती है। उन्होंने कहा-राज्य को विभिन्न योजनाओं और विकास के विभिन्न क्षेत्रों में लगातार मिल रही कामयाबी का श्रेय प्रदेश की मेहनतकश जनता को दिया जाना चाहिए। पिछले 14 साल में राज्य सरकार ने अपना हर दिन और हर एक पल छत्तीसगढ़ के गांव, गरीब और किसानों तथा समाज के सभी वर्गो की बेहतरी के लिए काम करने में लगाया है।

उन्होंने कहा – चौबीसों घंटे बिजली की व्यवस्था करके, गरीबों के लिए देश का पहला खाद्य सुरक्षा कानून बनाकर, युवाओं को कौशल उन्नयन का अधिकार देकर, किसानों को ब्याज मुक्त कृषि ऋणों की सुविधा देकर, वनवासियों को वन अधिकार मान्यता पत्र देकर और अमीर-गरीब के भेदभाव से परे राज्य के सभी परिवारों को 50 हजार रूपए तक स्वास्थ्य बीमा की सुविधा देकर छत्तीसगढ़ ने देश और दुनिया में ख्याति अर्जित की है। इस दौरान तेन्दूपत्ता संग्राहकों के लिए पारिश्रमिक दर 450 रूपए से बढ़ाकर 2500 रूपए कर दिया गया है। ऐसा करने वाला भी छत्तीसगढ़ देश का पहला राज्य है।

सीएम ने कहा – किसानों से निर्धारित समर्थन मूल्य पर धान खरीदी की सर्वोत्तम व्यवस्था छत्तीसगढ़ सरकार ने की है। आदिवासियों, अनुसूचित जातियों और पिछड़े वर्गो के विकास के लिए चार विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण बनाए गए हैं। नक्सल हिंसा पीड़ित दंतेवाड़ा जिले में विशाल एजुकेशन सिटी बनाकर और मुख्यमंत्री बाल भविष्य सुरक्षा योजना के तहत राज्य के पांच संभागीय मुख्यालयों में प्रयास आवासीय बनाकर हजारों बच्चों को मेडिकल और इंजीनियरिंग शिक्षा के लिए निःशुल्क कोचिंग दी जा रही है। स्कूल शिक्षा, उच्च शिक्षा, तकनीकी शिक्षा, स्वास्थ्य, सिंचाई, सड़क, संचार, बिजली, पेयजल सहित जनता के जीवन से जुड़ी हर बुनियादी जरूरत को सरकार सर्वोच्च प्राथमिकता के साथ पूर्ण कर रही है। मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि प्रदेश वासियों के निरंतर सहयोग से छत्तीसगढ़ अगले कुछ वर्षो में देश के सर्वाधिक विकसित राज्यों की श्रेणी में शामिल हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>