budget Archive

रोजगार सहायकों का मानदेय बढ़ा,पंचायत विभाग ने जारी किया आर्डर

रायपुर।राज्य की ग्राम पंचायतों में कार्यरत मनरेगा के रोजगार सहायकों का मानदेय बढ़ाने का आदेश जारी कर हो गया है। उन्हें बढ़ा हुआ मानदेय आगामी एक अप्रैल से मिलने लगेगा। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री ने पिछले महीने की दस तारीख को विधानसभा में आगामी वित्तीय वर्ष 2018-19 के लिए अपने बजट भाषण में रोजगार सहायकों

सीएम डॉ रमन अचानक पहुचे कवर्धा,राज्य के बजट को विकास की गति बढ़ाने वाला बताया

कवर्धा।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह शहडोल जिले के ब्यौहारी से रायपुर लौटते हुए अचानक अपने गृृह नगर कवर्धा पहुंचे, जहां हेलीपेड पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने उनका आत्मीय स्वागत किया। इस दौरान लोक सभा सांसद अभिषेक सिंह भी उपस्थित थे। इस अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित जनप्रतिनिधियों ने मुख्यमंत्री द्वारा कल विधानसभा में प्रस्तुत किए गए

शिक्षाकर्मी नेताओं ने कहा..फिर ठगे गए…सीएम को करना था संविलियन का एलान…अब बनाएंगे रणनीति

बिलासपुर—- शिक्षाकर्मियों ने बजट को दिल को पीड़ा पहुचाने वाला बताया है। शिक्षाकर्मियों की माने तो उम्मीद थी कि रिपोर्ट आने से पहले सीएम अपने बजट में फौरी राहत देंंगे। बल्कि साहब ने उल्टा दर्ज बढ़ा दिया है। जबकि शिक्षा कर्मियों को उम्मीद थी कि बजट में मुख्यमंत्री रमन सिंंह शिक्षाकर्मियों के लिए संविलियन का

कांग्रेस नेताओं ने कहा चुनावी बजट…रायपुर को बांंटा..बिलासपुर को फिट डांटा..शिक्षाकर्मी और किसान करेंगे फैसला

 बिलासपुर— डॉ रमन सिंह के अंतिम बजट को कांग्रेस नेताओं ने विदाई बजट बताया है। बजट में एक बार फिर बिलासपुर को छला गया है। यद्यपि बजट चुनाव को ध्यान में रखकर बनाया गया है लेकिन भाजपा को इसका फायदा मिलने वाला नहीं है। शिक्षाकर्मियों के साथ अन्याय हुआ है। बजट में राहत नहीं मिलने

बजटः धरम और अमर ने कहा सीएम ने रखा सबका ध्यान…शोषण करने वाले कांग्रेसियों का टूटा भ्रम…फिर बनाएंगे सरकार

बिलासपुर— मुख्यमंत्री ने शनिवार को सत्र का अंतिम बजट पेश किया। भाजपा नेताओं ने बजट का स्वागत किया है। कमोबेश सभी भाजपाइयों ने बजट को  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सोच के अनुसार बताया है। बजट में छत्तीसगढ़ के गांव, गरीब और किसान समेत सभी वर्गो के विकास का ध्यान रखा गया है।                              भाजपा प्रदेशाध्यक्ष

जब शिक्षाकर्मियों ने लिखा..बजट में तो कुछ नहीं..डॉक्टर साहब से कम से कम राहत वाली खुराक ही दे दो…कब करेंगे संविलियन

बिलासपुर— बजट के बाद सीएम डॉ.रमन सिंहं आनलाइन फेसबुक लोगों के सवालों का जवाब दिया। सीएम ने बजट पर टकटकी लगाकर देखने वाले शिक्षाकर्मियों के सवालों का भी आनलाइन करना किया। लेकिन सीएम के बजट और जवाबों से फौरी राहत नहीं मिलने पर शिक्षाकर्मी काफी उदास नजर आए। इस दौरान संविलियन को लेकर शिक्षाकर्मी लगातार

जब फेसबुक पर कालर ने कहा…जवाब गलत है…प्रश्न महिलाओं के रोजगार पर था न कि इम्पॉवरमेन्ट पर

बिलासपुर—लगातार 13 वां बजट पेश करने के बाद मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह फेसबुक लाइव पर मीठे,तीखे और कड़वे सवालों का जवाब दिया। इस दौरान ज्यादातर सवाल महिलाओं और छात्राओं ने की। संविलियन की मांग को लेकर भी प्रश्नों के तीर का भी सामना मुख्यमंत्री रमन सिंंह ने किया।                                          लगातार 13 वां बजट पेश करने के

शिक्षा कर्मियों में बजट को लेकर निराशाः अब 3-30 बजे फेसबुक LIVE में अपनी बात रखने की तैयारी

रायपुर । छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह की ओर से पेश किए बजट का सीधा प्रसारण सोशल मीडिया फेसबुक पर किया गया । बड़ी तादात में लोगों ने इसे देखा। जिनमें शिक्षा कर्मी भी थे। हालांकि शिक्षा कर्मियों के मुद्दों को लेकर बनाई गई कमेटी के फैसले को लेकर काफी लोगों को बड़ी उम्मीदे हैं।लेकिन

पिछले साल की तरह इस बार भी Budget के बाद Facebook Live पर रहेंगे सीएम डॉ रमन

रायपुर।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने शुक्रवार को विधानसभा में वित्तीय वर्ष 2018-19 के बजट की तैयारियों के संबंध में वित्त विभाग के प्रमुख सचिव अमिताभ जैन, विशेष सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक में विचार-विमर्श किया।उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री दस फरवरी को विधानसभा में बजट पेश करेंगे।बता दे कि मुख्यमंत्री

बजट पर रहेगी शिक्षाकर्मियों की नज़र…फूटेंगे पटाखे…या,, आनलाइन चलेंगे सवालों के तीर

बिलासपुर— शनिवार को मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह 13 वीं बार विधानसभा में बजट पेश करेंगे। बजट के बाद मुख्यमंत्री आनलाइन लोगों के सवालों का जवाब देंगे। दौरान बजट की जानकारी भी देंगे। बजट पेश करते समय प्रदेश के एक लाख 80 हजार शिक्षाकर्मी टीवी पर टकटकी लगाकर संविलियन की घोषणा का भी इंंतजार करेंंगे। शिक्षाकर्मियोंं ने

छत्तीसगढ़ में शिक्षकों के 22 हजार से अधिक पद खाली,बीजापुर जिले में एक पद भी खाली नहीं,बस्तर में सबसे अधिक

रायपुर।छत्तीसगढ़ के सरकारी स्कूलों में व्याख्याता पंचायत शिक्षक पंचायत और सहायक शिक्षक पंचायत के कुल 22 हजार  से अधिक पद खाली हैं। खाली पदों में सबसे अधिक  6800 से अधिक पद व्याख्याता पंचायत के हैं। विधानसभा में एक प्रश्न के जवाब में सरकार ने यह जानकारी दी कि प्रदेश में 1 लाख 39 हजार  से अधिक शिक्षक काम कर रहे हैं।विधानसभा के मौजूदा सत्र में विधायक भैयाराम सिन्हा ने

बजट के बहाने मतदाताओं को घेरने का प्रयास..कांग्रेसियों ने कहा..भावनाओं को कैश करती बाहुबली फिल्म की तरह

  बिलासपुर—कांग्रेस नेताओं ने केन्द्रीय बजट को भावनाओं को ठगने वाला बताया है। बजट में किसानों को पोस्ट डेटेड चेक थमाया है। आदिवासी और अनुसूचित समाज को योजनाओं के नाम पर भ्रमित करने वाला कहा है। कांग्रेसियों ने कहा कि चुनाव को ध्यान में रखकर मतदाताओं को रिझाने के लिए बजट में जमकर तानाबाना बुना

अमर ने दिया साधुवाद…कहा बजट में सबका साथ..सबका विकास…भाजपा नेताओं ने बताया..दृढ़ इरादो की झलक

   बिलासपुर— भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने केन्द्रीय बजट को देश के लिए उत्साहजनक और सकारात्मक बताया है। वित्त मंत्री ने बजट में गांव गरीब और  किसानों के साथ सर्वसमाज का विशेष ध्यान दिया है।                                   भाजपा नेताओं ने केन्द्रीय बजट को उत्साहित

लिपिक संघ नेता ने कहा…केन्द्रीय बजट से अच्छे दिन गायब…उम्मीदों पर मंत्री ने फेरा पानी

बिलासपुर— छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय कर्मचारी संघ ने बजट को कर्मचारियों के लिए धोखा बताया है।महामंत्री रोहित तिवारी ने कहा कि बजट निराशाजनक है। उम्मीद के साथ टीवी के सामने बैठे…बाद में पता चला कि समय बरबाद हो गया। बजट पेश करते समय अरूण जेटली के पोटली से अच्छे दिन कहीं गायब हो गए।                       

12–3 = 9 सांसदों ने मारा बंक…अकेले लखन ने संभाला मोर्चा…रोना रोने वाले सांसदों ने भेजा प्रतिनिधि

बिलासपुर— हमेशा की तरह इस बार भी दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन डीआरयूसीसी की बैठक औपचारिक बनकर रह गयी। हमेशा की तरह इस बार भी बैठक में सांसदों ने दिलचस्पी नहीं दिखाई। 12 में से मात्र तीन सांसदों ने बैठक में हिस्सा लिया। बाकी सांसद हमेशा की तरह या तो प्रतिनिधियों को भेजकर जिम्मेदार का

शिक्षा क्षेत्र में सर्वाधिक बजट…बेहतर हुआ स्तर…सीएम ने बताया..साढ़े तीन करोड़ की लागत से बनेगा भवन

बिलासपुर— सीएम रमन सिंह ने कहा कि प्रदेश में सर्वाधिक काम शिक्षा के क्षेत्र में हो रहे हैं। स्कूली शिक्षा से लेकर उच्च और तकनीकी शिक्षा में छत्तीसगढ़ की विशिष्ट पहचान बनी है। शिक्षा की गुणवत्ता को ज्यादा बेहतर बनाएं…सरकार लगातार इस दिशा में काम कर रही है। शिक्षा में राज्य बजट का सर्वाधिक हिस्सा

बजट से पहले PM मोदी लेंगे अर्थव्यवस्था का जायजा,अर्थशास्त्रियों की बुलाई बैठक

नईदिल्ली।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10 जनवरी को देश के प्रमुख अर्थशास्त्रियों के साथ बैठक कर सकते हैं। प्रधानमंत्री के साथ अर्थशास्त्रियों की यह बैठक आम तौर पर बजट के पहले होती है।पिछले साल भी बजट के पहले प्रधानमंत्री ने अर्थशास्त्रियों के साथ बैठक की थी। नोटबंदी का फैसला लागू किए जाने के प्रभावों का आकलन करने

छत्तीसगढ़ अनुपूरक बजटःबिलासपुर स्मार्ट सिटी के लिए 4-हवाई पट्टी के लिए 6 करोड़,बिल्हा-लोरमी में 50 बेड का अस्पताल

रायपुर।राज्य सरकार के वर्तमान वित्तीय वर्ष 2017-18 का प्रथम अनुपूरक बजट गुरूवार को  यहां विधानसभा में ध्वनिमत से पारित कर दिया गया। इसमें एक हजार 778 करोड़ रूपए का प्रावधान हैं। इसे मिलाकर राज्य सरकार के इस वित्तीय वर्ष के बजट का आकार बढ़कर 82 हजार 737 करोड़ रूपए हो गया है।बता दे कि वित्त

छत्तीसगढ़ में कैसे होगी शऱाबबंदी?फेसबुक पर सीएम रमन से पूछा सवाल

रायपुर।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डा. रमन सिंह मंगलवार को सोशल मीडिया-फेसबुक के जरिए लोगों से मुखातिब हुए और प्रदेश के बजट को लेकर लोगों के सवालों का जवाब दिया। इस दौरान प्रदेश में शराबबंदी, प्रदूषण , महिलाओँ  के विकास, आईटी विकास ,तेंदूपत्ता जैसे कई मुद्दों के लेकर लोगों नें सीएम से सवाल किए।जिनका डा. रमन सिंह

धरम बोले स्मार्ट बजट से मिलेगी राज्य के विकास को गति

रायपुर।भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को स्मार्ट बजट पेश करने के लिए बधाई दी है।कौशिक ने कहा कि सर्वस्पर्शी और सर्वसमावेशी बजट में सभी वर्गों का ध्यान रखा गया है।साथ ही पं. दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय व एकात्म मानववाद की झलक इस बजट में देखने को मिल रही