शिक्षाकर्मी संविलियन:जशपुर जिले से जारी हुआ प्रदेश का पहला संविलियन आदेश,वीरेंद्र दुबे बोले-ये है उज्ज्वल और सुरक्षित भविष्य का दस्तावेज

जशपुर।शिक्षाकर्मियों के जीवन को आमूलचल परिवर्तित कर पैराशिक्षक से शासकीय शिक्षक के रूप में गरिमा प्रदान करने वाला दस्तावेज, प्रदेश का पहला संविलियन आदेश जशपुर जिले से जारी हुआ है।गौरतलब है कि राज्य शासन ने प्रदेश के समस्त शिक्षाकर्मियों का संविलियन कर शासकीयकरण करने का निर्णय लिया जिसके प्रथम चरण में 8 वर्ष पूर्ण कर चुके एक लाख पौने पांच हजार शिक्षाकर्मी लाभान्वित हो रहे हैं।इसके लिए बाकायदा प्रदेश के प्रत्येक जिले में राज्य शासन द्वारा निर्देशो का पालन करते हुए जारी समयसारणी अनुसार विभिन्न प्रक्रियाएं करनी थी,जिसमे वरिष्ठता सूची का प्रकाशन और संविलियन आदेश निकालना प्रमुख था। हालांकि 10 अगस्त तक सभी जिला शिक्षाधिकारियों को LB संवर्ग के सहायक शिक्षक और शिक्षकों का संविलियन आदेश जारी करना था किंतु अभी तक सिर्फ जशपुर जिले के डीईओ एन कुजूर ने नोडल अधिकारी कुलदीप शर्मा के मार्गदर्शन में प्रदेश का सर्वप्रथम संविलियन आदेश जारी किया है और ऐसा करने का गौरव प्राप्त करने वाला *पहला जिला जशपुर बन गया है।

Shikshakarmi,virendra dubeyशालेय शिक्षाकर्मी संघ के प्रांताध्यक्ष वीरेंद्र दुबे, जिलाध्यक्ष विनय सिंह और जिला सचिव सरवर हुसैन* ने समस्त LB संवर्ग के शिक्षकों को बधाई प्रेषित की है, साथ ही प्रदेश का प्रथम संविलियन आदेश जारी करने के लिए जिले के अधिकारियों और सम्बंधित कर्मचारियों की प्रशंसा भी की है।प्रदेशाध्यक्ष वीरेंद्र दुबे ने इस संविलियन आदेश को शिक्षाकर्मियों के जीवन मे आमूलचूल परिवर्तन करने वाला दस्तावेज बताते हुए कहा कि शासकीयकरण होने के बाद हमे गुरु की गरिमा प्राप्त होने के साथ उज्ज्वल और सुरक्षित भविष्य की प्राप्ति होगी।संविलियन आदेश प्राप्त कर रहे समस्त LB संवर्ग के शिक्षको को शुभकामनाएं।

प्रदेश मीडिया प्रभारी जितेन्द्र शर्मा ने जानकारी दी कि LB संवर्ग के सहायक शिक्षक और शिक्षकों के संविलियन आदेश सोमवार तक अधिकांश जिलों में जारी हो जाएगा।जबकि LB संवर्ग के व्याख्याताओं का राज्य वरिष्ठता सूची DPI निर्धारित तिथि 13 अगस्त को जारी करेगा तदुपरांत दावा आपत्ति लेकर 10 सितम्बर तक व्याख्याता (LB) का संविलियन आदेश जारी करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *