अब Digilocker में रखें DL/RC और अन्य दस्तावेज, इन आसान तरीकों से करें ऐप डाउनलोड

नई दिल्लीअब आपको ड्राइविंग लाइसेंस और वाहन निबंधन प्रमाणपत्र (आरसी) समेत अन्य जरूरी दस्तावेजों की ऑरिजिनल कॉपी को दिखाने की जरूरत नहीं होगी। सरकार ने राज्यों को सलाह जारी की है कि इस प्रकार के दस्तावेजों को डिजिलॉकर या एमपरिवहन प्लेटफार्म के माध्यम से इलेक्ट्रॉनिक फार्म में प्रस्तुत किए जाने पर स्वीकार करें। इलेक्ट्रॉनिक फॉर्म में लाइसेंस, पंजीकरण प्रमाण पत्र या अन्य दस्तावेज ड्राइविंग परिवहन प्राधिकरणों द्वारा जारी प्रमाणपत्रों के बराबर माना जाएगा। डिजिटल लॉकर के जरिये आप जन्म प्रमाण पत्र, पासपोर्ट, शैक्षणिक प्रमाण पत्र जैसे अहम दस्तावेजों को ऑनलाइन स्टोर कर सकते हैं। इस क्लाउड आधारित प्लेटफार्म की सुविधा पिछले साल सरकार ने की थी। यह सुविधा आपके जरूरी सरकारी दस्तावेजों को सुरक्षित रखता है। डिजिलॉकर के लिए आधार कार्ड होना अनिवार्य है।

सड़क परिवहन और राजगार्म मंत्रालय ने बयान में कहा गया, ‘सर्टिफिकेट्स के आई-टी आधारित ऑनलाइन वेरिफिकेशन से कानून प्रवर्तन प्राधिकरण को विवरणों की सत्यता सुनिश्चित करने में मदद मिलेगी, जिससे बेहतर अनुपालन और प्रभावी निगरानी सुनिश्चित होगी।’

डीजीलॉक का एक और यह भी होगा कि अब ऑरिजिनल दस्तावजों को रखने का झंझट खत्म होगा। अब आप बिना किसी चिंता के अपने सारे जरूरी कागजातों को डिजीलॉक के जरिए सुरक्षित रख सकते है।

अकाउंट बनाने के लिए आधिकारिक वेबसाईट http://digitallocker.gov.in/ पर क्लिक करें

 ऐप ऐसे करें डाउनलोड

डिजीलॉकर मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के बाद साइन अप करें। साइन अप करने के बाद अपने मोबाइल नंबर डालें, जिसके बाद आपको OTP आएगा। OTP को एंटर करें और लॉगइन के लिए अपना यूजर नेम और पासवर्ड सेट करें। इन चरणों के बाद आपका अकाउंट क्रिएट हो जाएगा। अब आप अपने 12 अंकों वाले आधार नंबर को डालें। इसके बाद मोबाइल नंबर पर ओटीपी आएगा। उस ओटीपी को एंटर करने के बाद आधार ऑथेंटिकेशन की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *