डेढ़ महीने से नहीं लगा टीका..सिम्स को 7 दिन का अल्टीमेटम…युंकाइयों ने कहा..बच्चों की जिन्दगी से खिलवाड़..!

बिलासपुर—सिम्स समेत जिले के शासकीय अस्पतालों मे बच्चों को जीवन रक्षक दवाईयां नहीं है। खसरा का टीकाकरण नही हो रहा है। केन्द्र  सरकार पूरे देश मे मिजल्स रुबेला टीकाकरण अभियान चलाने का संकल्प लिया है। लेकिन जिले के अस्पतालों मे शिशुओं के लिए खसरा का इंजेक्शन नही है।युवा कांग्रेस नेताओं ने सिम्स का घेराव कर बच्चों के जीवन से खिलवाड़ करने का आरोप लगाया है।
                 युवा कांग्रेस नेताओं ने आज सिम्स का घेराव किया। युवा नेताओं ने प्रबंधन पर बच्चों के जीवन से खिलवाड़ का आरोप लगाया है।युवाओं नेताओं ने कहा कि सिम्स समेत जिले के शासकीय अस्पतालों मे जीवन रक्षक दवाईयों का टोंटा है। एक तरफ केन्द्र सरकार एक साथ देश में मीजल्स रूबेला के खिलाफ जंग का एलान करती है। दूसरी तरफ सिम्स में खसरे का इंजेक्शन नही है।
                     स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही उजागर होने के बाद युवा कांग्रेसियों ने सिम्स का घेराव किया। कांग्रेसियों ने प्रबंधन से कहा कि सिम्स मे डेढ़ माह से खसरा का टीकाकरण नहीं हो रहा है। यही हाल जिले के ग्रामीण अस्पतालों मे है। युवा कांग्रेसियों ने प्रबंधन को अल्टीमेटम दिया कि जीवन रक्षक टीकाकरण अभियान एक सप्ताह के भीतर चालू किया जाए। अन्यथा स्वास्थ्य विभाग के खिलाफ उग्र आंदोलन किया जाएगा। इस दौरान यूथ नेताओं ने प्रबंधन और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।
                         यूथ नेताओं ने डॉ.लखन सिंह से लिखित शिकायत भी की। प्रदेश सचिव जावेद मेमन और शहर अध्यक्ष शिवा नायडू ने बताया कि परिचित के बच्चे का टीकाकरण कराने सिम्स लाए थे। इसी दौरान जानकारी मिली कि सिम्स में खसरा का टीका नहीं है। डेढ़ माह से शिशुओं के जीवन रक्षक दवाईयां नहीं दी जा रही है।
                     युंका नेता सिम्स के डीन से भी शिकायत की। टीकाकरण अभियान बंद होने को लेकर नाराजगी जताई। युंकाइयों ने कहा कि सरकार मृत्यु दर मे कमी की दावा करती है। लेकिन अस्पतालों में जीवन रक्षक दवाइयों का टोंटा है। आंकड़े पढ़कर और स्वास्थ्य विभाग की स्थिति देखने के बाद स्पष्ट हो जाता है कि दाल में काला है।
                               मुख्यमंत्री जिला अस्पताल का लोकार्पण करते हैं। लेकिन करोड़ों के भवन में बच्चों के लिए दवाइयां नहीं है। अव्यवस्था और बदहाली के बीच बच्चों की जिन्दगी से खिलवाड़ किया जा रहा है। समय पर खसरा का टीकाकरण नही होने से बच्चों की जान खतरे में है।  इसके लिए सीधे सीधे सरकार और जिला प्रशासन जिम्मेदार है। प्रदर्शन के दौरान जावेद मेमन. शिवा नायडू.विनय वैधे वकार खान शिवम दुबे. मो.अयाज. आरिफ खान. ऋषि कश्यप विशेष रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *