मुख्यमंत्री के आश्वासन पर चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी संघ की हड़ताल स्थगित

रायपुर।छत्तीसगढ़ लघु वेतन शासकीय कर्मचारी संघ द्वारा 4 सूत्रीय मांगों को लेकर जिसमें वर्ष 1997 के बाद आदिम जाति कल्याण विभाग समेत कई विभागों में कार्यरत कलेक्टर दर दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों का नियमितीकरण किए जाने,कार्यभारित कर्मचारियों को सेवानिवृत्त पश्चात अवकाश नगदीकरण का लाभ दिए जाने,चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की ग्रेड वेतन में बढ़ोतरी किए जाने,चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की सेवा अवधि बढ़ोतरी किए जाने सहित मांगों को लेकर साल 2013- 14 से समय-समय पर विज्ञापन और धरना प्रदर्शन के माध्यम से ध्यान आकर्षण कराता रहा।संघ के प्रांताध्यक्ष बिंदेश्वर राम रौतिया ने बताया कि मांगों को लेकर संघ द्वारा विचारोंप्रांत 4 जुलाई को एक दिवसीय सामूहिक अवकाश लेकर प्रांतव्यापी धरना प्रदर्शन किया गया।और 16 जुलाई से अनिश्चितकालीन हड़ताल किया जा रहा था।इस बीच हड़ताल का विस्तार करते हुए 2 अगस्त को प्रांत व्यापी महाधरना और जेल भरो आंदोलन के तहत राज्य के हजारों हड़ताली कर्मचारियों ने बूढ़ा तालाब के पास अपनी गिरफ्तारी दी।वहीं दूसरी ओर संघ ने शासन प्रशासन के साथ चर्चा का दौर भी जारी रखा।जिसमें 3 अगस्त को नीलू शर्मा अध्यक्ष वेयरहाउस कारपोरेशन,छत्तीसगढ़ शासन के जरिए मुख्यमंत्री से वार्ता की गई। जिस पर मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने संघ की 4 सूत्रीय मांगों को गंभीरता से लेते हुए सहमति व्यक्त करते हुए निराकरण का आश्वासन दिया।साथ ही हड़ताल अवधि का वेतन भुगतान की स्वीकृति दे दी।और संघ के आग्रह पर सितंबर 2018 में संघ के प्रांतीय सम्मेलन पर मुख्य अतिथि हेतु भी अभी स्वीकृति दी गई।मुख्यमंत्री के आश्वासन पर संघ ने हड़ताल स्थगित किया।इस मौके पर संघ प्रतिनिधि मंडल के रूप में घनश्याम शर्मा प्रांतीय संरक्षक,योगेश त्रिपाठी सचिव ,कामता प्रसाद साहु मीडिया प्रभारी अध्यक्ष मुंगेली ,कौशल अग्रवाल अध्यक्ष रायपुर,हरिश्चंद्र यादव अध्यक्ष राजनांदगांव, विष्णु यादव अध्यक्ष रायगढ़ ,माधोदास कोषाध्यक्ष राजनांदगांव ,देवेंद्र साहू महामंत्री रायगढ़,रवि गुप्ता कार्यकारी अध्यक्ष रायगढ़ ,तीरथ लाल सेन और देव रजक शामिल थे।बिंदेश्वर राम रौतिया प्रांताध्यक्ष ने राज्य के सभी चतुर्थ वर्ग कर्मचारियों से अपील की है कि वह 4 अगस्त से अपने काम पर उपस्थित हो।

Comments

  1. By daya singh thakur

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *