शिक्षाकर्मी नेता ने बताया…अल्टीमेटम लिया वापस…वेतन भुगतान में देरी को लेकर किया था घेराव का एलान

कांकेर….शिक्षाकर्मी नेता हेमेन्द्र साहसी ने बताया कि सभी एलबी शिक्षाकर्मियों का वेतन भुगतान संगठन के प्रयास से किया जा रहा है। साहसी ने बताया कि छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ शिक्षक साथियों के वेतन भुगतान को लेकर किया गया प्रयास सफल हुआ है।  इसलिए 6 अगस्त को जिला पंचायत घेराव के निर्णय को वापस ले लिया गया है।
              हेमेन्द्र साहसी ने बताया कि जिला पंचायत कांकेर के अंतागढ़ विकासखण्ड के दुर्गकोंदल और कांकेर के साथियों कों लंबित वेतन नहीं दिया जा रहा था। लगातार मांग के बाद भी अधिकारी वेतन देने में टाल मटोल कर रहे थे। तमाम परेशानियों को देखते हुए कांकेर के शिक्षाकर्मी साथियों ने  6 अगस्त को जिला पंचायत घेराव का अल्टीमेटम दिया था।
               साहसी ने बताया कि जिला पंचायत घेराव के अल्टीमेटम के बाद कांकेर जिला के अंतागढ़ विकासखंड दुर्गुकोंदल और कांकेर विकासखंड के शिक्षाकर्मियों का लंबित वेतन भुगतान आवंटन जारी कर दिया गया। इसके पहले संघ ने लगातार तीनों विकासखंड खंड शिक्षा अधिकारी  एमन जैन, भुवन लाल जैन और आलोक त्रिवेदी से लगातार संपर्क किया गया। आवंटन मांग पत्र का भी अनुरोध किया गया। अधिकारियों ने निश्चित समय सीमा में संबंधित खंड शिक्षक साथियों का वेतन जारी कर दिया है। इसलिए संगठन ने फैसला किया है कि 6 अगस्त को होने वाला जिला पंचायत घेराव कार्यक्रम को स्थगित किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *