CM को काला झंडा दिखाने जा रहे थे जोगी कांग्रेसी…….राजेन्द्रनगर चौक पर गिरफ्तार… पहुंचाए गए सिरगिटी थाने

बिलासपुर । शहर  में जीयो मोबाइल बाँटने पहुँचे मुख्यमंत्री रमन सिंह को काला झंडा दिखाने जा रहे  विधायक अमित जोगी, विधायक सियाराम कौशिक, धरमजीत सिंह, अनिल टाह, बृजेश साहू, संतोष कौशिक समेत सैकड़ों जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) कार्यकर्ता  राजेन्द्र नगर चौक पर  गिरफ़्तार कर लिए गए। गिरफ्तारी के बाद उन्हे सिरगिटी थाने ले जाया गया है।
जैसा कि मालूम है कि बुधावार को मुख्यमंत्री बिलासपुर में मोबाइल तिहार के तहत मोबाइल बांटने पहुंचे थे। उनका कार्यक्रम पुलिस ग्राउन्ड में था। इस दौरान  जोगी कांग्रेस के लोगों ने मुख्यमंत्री को काला झंडा दिखाने की तैयारी कर रखी थी। जोगी कांग्रेस के लोग विधायक अमित जोगी की अगुवाई में विरोध प्रदर्शन के लिए निकले। लेकिन पुलिस ग्राउन्ड पहुंचने से पहले राजेन्द्र नगर चौक पर उन्हे गिरफ्तार कर लिया गया । गिरफ्तार किए गए लोगों मे विधायक अमित जोगी, विधायक सियाराम कौशिक, पूर्व विधानसभा उपध्यक्ष धर्मजीत सिंह, अनिल टाह, संतोष कौशिक,बृजेश साहू,ज्वाला प्रसाद चतुर्वेदी,संतोष  दुबे, विशम्भर गुलहेरे, मणिशंकर पांडेय,गोविंद सेठी, टिकेश प्रताप,सैयाद निहाल,समीर एहमद, बंटी खान, विक्रान्त तिवारी,जीतू ठाकुर, निलेश माड़ेवार,गजेंद्र श्रीवास्तव,आशु शर्मा, फारुख खान, केन्थ कॉलिन, राजेश सोनी,प्रदीप कुर्रे,राहुल पहुँचेल, पवन साहू,गोपाल यादव,मार्गरेट बेंजामिन,सुनीता यादव, पूनम यादव, कमल कश्यप,कुंती उइके, ललिता भरतद्वज, नितेश शर्मा, आसिफ खान, हितेश देवांगन,पिंटू जायसवाल,हितेश सिंहसत्येंद्र गुलेरी,  आकाश दुबे,करन मधुकर,आलोक ठाकरे,विकास सिंह, गौरव अग्रवाल, हर्ष सिंह,मनीष मिश्रा, दुर्गेश साहू, हितेश देवांगन, लोमस साहू, सानू कश्यप आदि  कार्यकर्ता शामिल हैं।जिन्हे  गिरफ्तार कर सिरगिट्टी थाने में बैठाया गया।
 चुनाव पूर्व छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा 51 लाख मोबाइल फ़ोन बांटने को मरवाही विधायक अमित जोगी ने रमन सरकार का सत्ता हाथ से जाने के डर का परिचायक बताया है। जोगी ने कहा कि जब कोई सरकार ‘बढ़ाने की जगह बाँटने’ के कार्य में लग जाये तो समझ लेना चाहिए कि जनता का सरकार पर से भरोसा उठ चुका है। जोगी ने कहा कि इस बार के चुनाव में  ‘जियो लो, वोट दो’ के फार्मूले के सहारे सत्ता में  वापसी का सपना देख रहे मुख्यमँत्री को जनता सबक सिखाएगी। इस बार छत्तीसगढ़ में जोगी जी का फार्मूला ‘वोट दो, नौकरी लो’ काम करेगा। प्रदेश के 30 लाख बेरोजगार युवाओं को फ़ोन से ज्यादा नौकरी की आवश्यकता है । जोगी सरकार बनते ही स्थानीय युवाओं को सरकारी एवं गैर सरकारी पदों पर 90% आरक्षण मिलेगा एवं साथ ही  छत्तीसगढ़ की औद्योगिक नीति में बदलाव कर नए प्लांट एवं नए निवेश लाये जाएंगे।जिओ कंपनी से फ़ोन खरीदने के बदले हुई डील पर सवाल करते हुए अमित जोगी ने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने सैमसंग कम्पनी के फ़ोन खरीदने के बदले उन्हें उत्तर प्रदेश में निवेश करने को कहा। नतीजा यह हुआ कि सैमसंग ने अपनी विश्व की सबसे बड़ी यूनिट नोएडा में लगाई। इसके ठीक विपरीत, मोबाइल बनाने की फ़ैक्टरी खोलने के बदले मुख्यमंत्री केवल बेरोज़गारी की फ़ैक्टरी चला रहे है जो पिछले १५ सालों में ३० लाख से झाड़ा बेरोज़गार पैदा कर चुकी है। हमारे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने 51 लाख जिओ फोन के बदले केवल अपनी कमिशमखोरी की परंपरा को आगे बढ़ाया। जोगी ने कहा कि जो लूटते हैं खज़ाना वही जनता की आँख में धूल झोंकने के लिए बुलाते हैं करीना और कंगना। इस पूरे सौदे पर जोगी ने सरकार से श्वेत पत्र जारी करने की माँग करी।
अमित जोगी ने आगे कहा कि जब प्रदेश के 55% क्षेत्र में मोबाइल कनेक्टिविटी ही नहीं है- 1200 करोड़ रुपए  ख़र्च करने के बाद भी 9000 टॉवर की जगह मात्र 2000 टॉवर ही अब तक लग पाए हैं- तो उन क्षेत्रों के लोग मोबाइल का उपयोग आख़िर कैसे करेंगे?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *