तखतपुर कांग्रेस में दो फाड़…विपक्ष ने भी डाला घी…कार्यकर्ताओं में आक्रोश…कहा..जमकर उड़ रही दावेदारों की खिल्ली

Randeep Surjewala, Congress, Pm Narendra Modi,तखतपुर-( टेकचंद कारड़ा)– विधानसभा चुनाव सिर पर है। असर पार्टियों की गतिविधियों पर दिखाई देने लगी है। खासकर कांग्रेस में असर कुछ ज्यादा ही दिख रहा है। दरअसल चुनाव आने से पहले ही कांग्रेस दो फाड़ हो गई है। प्रत्याशियों की भारी भरकम संख्या और उनके हितों ने कार्यकर्ताओं को मथकर रख दिया है। कांग्रेस नेताओं की अन्दरूनी खिंचातानी से कार्यकर्ताओं में जमकर नाराजगी देखने को मिल रही है। खिंचातानी का फायदा आने वाले समय में विपक्षी पार्टी को मिल जाए इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है।
                       विधानसभा चुनाव की तारीख जैसे जैसे करीब आ रही है चुनावी अटकलों का बाजार तेजी से गरम होता जा रहा है । ऐसे में कांंग्रेस पार्टी के बड़े नेता जहां कार्यकर्ता सम्मेलन कर तखतपुर में पिछले दो चुनाव में हार का हिसाब किताब करने का मन बनाया है। तो पार्टी प्रत्याशियों ने टिकट की दावेदारी करने एक दूसरे पर कीचड़ उछालना शुरू कर दिया है।
                   पिछले एक सप्ताह से नगर में कांग्रेस दो फाड़ में नजर आ रही है। जिसके चलते नगरपालिका की राजनीति भी गर्म हो गई है। विरोधियों को बोलने का अवसर जमकर मिल गया है। बावजूद इसके कांग्रेस संगठन का विवाद थमने का नाम नही ले रहा है। यदि यहीं स्थिति रही तो इसमें कोई शक नहीं कि आने वाले समय में विरोधियों को बोलने का बेहतर अवसर मिले…और आश्चर्य नहीं कि तीसरी बार भी तखतपुर से कांग्रेस को निराशा ही हाथ लगे।
                                            बताना जरूरी है कि खींचातान के चलते  कांग्रेस पहले से ही नुकसान में है। यह जानते हुए भी कि यदि खींचतान का दौर लंबा चला तो नुकसान की भरपाई होना संभव नही है। जबकि कांग्रेस के बड़े नेताओं ने पिछले कुछ समय से नगर में दो तीन बड़े कार्यक्रम के बहान कार्यकर्ताओं में जान फूंकने का प्रयास किया है। इतना ही नहीं गुटबाजी को दूर करने प्रत्याशियों के बीच जिले में बैठक भी हुई। लेकिन असर उल्टा ही हुआ। दावेदारों ने अब खुलकर  अपनी ढपली अपना राग अलापना शुरू कर दिया है।
                      सोशल मिडिया में नगर की राजनीति को लेकर जमकर खिंचाई हो रही है। पार्टी में चल रही अंदरूनी लड़ाई और विवाद की जानकारी जिला अध्यक्ष को दी जा चुकी है । बावजूद इसके अभी तक किसी तरह का समन्वय टिकट दावेदारों के बीच नही हो पाया है। जिसके कारण शहर में कांग्रेस की जमकर किरकिरी हो रही है। कांग्रेस दो फाड़ में नजर आ रही है। विपक्षी इसका फायदा उठाने में कोई कसर नही छोड़ रहे है।  कांग्रेस में लगी आग में विरोधियों ने ना केवल घी डालना शुरू कर दिया है बल्कि हाथ सेंकने से भी परहेज नहीं कर रहे हैं।
                                             ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष शिवबालक कौशिक ने कहा कि  कांग्रेेस में उपजे संकट को दूर करने वरिष्ठ कांग्रेसजनों की बैठक होगी। विश्वास है कि सभी को संतुष्ट कर लिया जाएगा।

Comments

  1. Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *