विद्युत करेंट से चचेरे भाई की जान बचाने वाली बालोद की बिटिया को भारत सरकार का ‘‘जीवन रक्षा पदक‘‘

बालोद-विद्युत करेंट से चचेरे भाई की जान बचाने वाली गुरूर तहसील के ग्राम पेण्डरवानी की छात्रा कु. यामिनी साहू को भारत सरकार द्वारा वर्ष 2017 का ‘‘जीवन रक्षा पदक‘‘ और एक लाख रूपए का चेक प्रदाय किया गया है। कलेक्टर डॉ.सारांश मित्तर ने कल कलेक्टोरेट में कु.यामिनी साहू को भारत सरकार गृह मंत्रालय द्वारा दिए गए ‘‘जीवन रक्षा पदक‘‘ पुरस्कार और एक लाख रूपए का चेक उनके पालक और प्रशासनिक अधिकारियों की उपस्थिति में प्रदान कर अपनी बधाई एवं शुभकामनाएॅ दी।

कक्षा बारहवीं की छात्रा कु. यामिनी ने कलेक्टर को बताया कि लगभग तीन वर्ष पूर्व उसका सात वर्षीय चचेरा भाई लोमेश कुमार स्कूल से छुट््टी के बाद घर आया और टी.वी. चालु करने बिजली का स्वीच ऑन किया था और विद्युत करेंट के चपेट में आकर तड़प रहा था। उसी समय वह घर पहुॅची और तुरंत ही घर में रखे बांस के डंडे से उसे छुड़ाया। उस समय उसके परिजन खेत गए हुए थे। उसने पड़ोसियों को इसकी जानकारी दी और पड़ोसियों की मदद से ही अपने चचेरे भाई को धमतरी के अस्पताल ले जाकर इलाज कराने में सहायता की

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *