जब महिला नेत्रियों ने जलाया नेहरू चौक में चूल्हा…बनाई चाय..कहा..सरकार कम करे गैस के दाम..अन्यथा आंदोलन

बिलासपुर—जिला और शहर महिला कांग्रेस नेहरू चौक में अनोखे अंदाज में महंगाई और गैस सिलेन्डर दाम में बृद्धि का विरोध किया। मंहगाई के खिलाफ पोस्टर पहनकर केन्द्र और राज्य सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। बढ़े हुए गैस सिलेन्डर के दाम को वापस लेने को कहा। बीच नेहरू चौक में चूल्हा जलाकर चाय बनाया। लोगों को पिलाया लेकिन पुलिस बल ने चाय पीने से इंकार कर दिया।

               नेहरू चौक में खुले आसमान के नीचे जिला महिला और शहर कांग्रेस नेत्रियों ने चाय बनाकर लोगों को पिलाया लेकिन पुलिस वालों ने चाय पीने से इंकार कर दिया। मौका था महंगाई और बढ़े हुए सिलेन्डर के खिलाफ महिला कांग्रेसियों के प्रदर्शन का। महिला कांग्रेस नेत्रियों ने अनोखे अंदाज में विरोध किया। इस दौरान मौके पर मौजूद आधे से अधिक कांग्रेस नेत्रियों ने सिलेन्डर का पोस्टर भी पहन रखा था। जमकर नारेबाजी भी की।

              इसके बाद बीच चौक में 6 ईंट रखकर चूल्हा बनाया। लकड़ी जलाकर बड़े से पतीले में पानी शक्कर और दूथ डालने के बाद चाय तैयार किया गया। महिलाओं ने बताया कि प्रधानमंत्री कहते हैं कि चाय बनाया करता था। लेकिन उन्हें किचन के आटे दाल का भाव की जानकारी नहीं है। गैस सिलेन्डर का दाम बढ़ाकर आम जनता के सुख चैन को छीन लिया है।

               चाय बनाने पहुंची महिला कांग्रेसियों ने बताया कि कांग्रेस सरकार में 423 रुपये में गैस सिलिंडर मिलता था। लेकिन अब सिलेंडर का दाम 845 रूपए को पार कर दिया है। जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष अनिता लव्हात्रे और शहर महिला कांग्रेस अध्यक्ष सीमा पाण्डेय ने बताया कि गैस सिलिंडर के दाम में वृद्धि से गरीबों का बजट पूरी तरह से बिगड़ गया है। गैस रिफिल कराने से पहले लोगों को काफी सोचना पड़ता है ।

                         सब्सिडी को लेकर अनिता और सीमा ने बताया कि कभी सब्सिडी मिल जाती है तो कभी लोगों को इंतजार करते महीनों गुजर जाता है। इस दौरान महिला नेत्रियों ने केंद्र सरकार से जल्द से जल्द महंगाई को नियंत्रित किए जाने की मांग की है। एक्शन नहीं लिये जाने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है।

                   अनोखे प्रदर्शन में दर्जनों कांग्रेस नेत्रियां मौजूद थीं। वहीं अनोखे प्रदर्शन को देखने आम जनता की भीड़ नजर आयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *