विधानसभा घेरावः19 हजार से अधिक लोगों की गिरफ्तारी..जोगी और धरमजीत ने कहा..सरकार ले रही अंतिम सांस

बिलासपुर—जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ की भारी भीड़ ने अमित जोगी, धर्मजीत सिंह के नेतृत्व में विधानसभा का घेराव कर जंगी प्रदर्शन किया। इस दौरान गुंडरदेही विधायक राजेंद्र राय, बिल्हा विधायक सियाराम कौशिक, ओमप्रकाश देवांगन,ऋचा जोगी,योगेश तिवारी,विनोद तिवारी टिकेश प्रताप सिंह,समीर अहमद और जीतू ठाकुर,बृजेश साहू समेत हज़ारो कार्यकर्ताओ ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। जनता कांग्रेस नेताओं ने बताया कि मानसून सत्र भाजपा सरकार की अंतिम सांस है। इसके बाद प्रदेश की जनता भाजपा को विपक्ष में बैठने के काबिल भी नहीं छोड़ेगी।

                        हजारों की संख्या में जनता कांग्रेस नेताओं ने रायपुर स्थित विधानसभा का घेराव किया। विधानसभा घेराव कार्यक्रम में अमित जोगी के आह्वान पर जनता कांग्रेस कार्यकर्ता और नेता प्रदेश के कोने कोने से पहुंचे। विधानसभा घेराव के पहले प्रदेश के कोने कोने से रायपुर पहुंचे पार्टी कार्यकर्ताओं और आमजन को पंडरी चौक स्थित नेताओं ने संबोधित किया।

                       अमित जोगी,धर्मजीत सिंह, ऋचा जोगी,सियाराम,आरके राय समेत पार्टी नेताओं ने भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। नेताओं ने मंच से किसानों को 2100 रुपये समर्थन मूल्य दिए जाने की मांग की। कमोबेश सभी नेताओं ने अपने भाषण में किसानों की पूर्ण ऋण माफी, छत्तीसगढ़ के युवाओं को सरकारी और गैर सरकारी संस्थानों में 90 प्रतिशत आरक्षण और  महिलाओं के हित में राज्य में पूर्ण शराबबंदी पर जोर दिया। छजका नेताओं ने कहा कि सरकार चिट फंड कंपनियों में डूबे हज़ारों कऱोड रूपयों को वापस लाए। गैर आबादी की काबिज भूमि को आबादी घोषित कर सभी को पट्टे दिए जाएं।

                पंडरी चौक से हजारों कार्यकर्ता विधानसभा घेराव करने पहुंचे। इस दौरान विभिन्न जनहित मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। अमित जोगी ने कहा कि विधानसभा घेराव कर जनता ने निर्णायक जंग का एलान किया है। अमित ने आरोप लगाया कि  दोनो राष्ट्रीय पार्टियाँ विधानसभा में मिली हुई है। जनता की आवाज़ को मिलकर दबा रही है। छत्तीसगढ़ के लोगों ने इन 15 सालों में रमन सिंह के तीन रूप देखे है। तीनों ही रूपों से जनता भयभीत हो चुकी है।

   जोगी ने बताया कि छत्तीसगढ़ में एक भी फ़ैक्टरी नहीं खोली गयी। भाजपा सरकार ने प्रदेश को युवा बेरोज़गारों का कारखाना बनाकर रख दिया है। धरमजीत सिंह ने रमन सरकार को किसान विरोधी बताया। उन्होने कहा कि जनता ने परिवर्तन का फैसला कर लिया है। चुनाव में जोगी कांग्रेस की जीत होगी। सरकार बनते ही सबकी मांगों को पूरा किया जाएगा।

    विधानसभा घेराव के दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झूमा झटकी हुई। कुछ लोगों पर लाठी जार्च करना भी पड़ा। पुलिस ने 19353 कार्यकर्ताओ और पदाधिकारियों को गिरफ्तार कर अस्थायी जेल भेज दिया। बाद में सभी को निशर्त रिहाई भी हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *