कांग्रेसियों ने दिया अल्टीमेटम…कहा..व्यवस्था नहीं सुधरी तो उग्र आंदोलन का सामाना करने को रहें तैयार

बिलासपुर—जिला कांग्रेस कमेटी और कांग्रेसी पार्षदों ने सिम्स का घेराव किया। सिम्स पर अव्यवस्था, अराजकता, भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। स्वास्थ्य संबंधी कमियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी। कांग्रेसियों ने कहा कि चिकित्सा संस्थान की कार्यप्रणाली समझ से परे है। इस दौरान कांग्रेसियों ने जमकर नारेबाजी की।

            कांग्रेसियों ने सिम्स का घेराव कर डाॅक्टरों पर मरीजों के साथ र्दुव्यवहार का आरोप लगाया। कांग्रेसियों ने बताया कि कुछ दिनों पहले पार्षद पंचराम सूर्यवंशी के वार्ड की आग से झुलसी एक महिला को सिम्स की बर्न युनिट में भर्ती किया गया। बिजली नहीं होने के कारण बर्न यूनिट के सभी ए.सी. बंद मिले। यूनिट में भर्ती मरीज काफी परेशान थे। बावजूद इसके  प्रबंधन ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। जिसके आग से झूलसी महिला की मौत हो गयी।

             घेराव कार्यक्रम के दौरान कांग्रेसियों ने कहा कि सिम्स भगवान भरोसे चल रहा है। एक्स-रे मशीन, एम.आर.आई. मशीन समेत कमोबेश सभी महत्वपूर्ण उपकरण हमेशा की तरह बंद रहते हैं। कभी मालूम होता है कि रैबीज का इंजेक्शन नहीं है तो कभी पता चलता है कि सिम्स के डाॅक्टर बिना वजह  मरीजों को अपोलो समेत कई प्रायवेट चिकित्सालयों में रिफर कर देते हैं। डाॅक्टर से महिलाओं से मारपीट करते हैं।

                   कांग्रेस नेताओं ने सिम्स प्रबंधन प्रमुख डीन को को लिखित शिकायत कर कहा कि यदि आचार विचार और व्यवहार के साथ प्रबंधन को ठीक नहीं किया गया तो सिम्स परिसर में ही राज्य सरकार, स्वास्थ्य मंत्री और सिम्स प्रबंधन के खिलाफ बड़ा आंदोलन किया जायेगा।

                         कांग्रेसियों से बातचीत के दौरान सिम्स  डीन ने कहा कि शिकायतों को गंभीरता से लिया जाएगा। लिखी गई सभी बातों को प्रबंधन के सामने रखूंगा। सभी सवालों का जवाब आप लोगों को सात दिन के भीतर मिल जाएगा।

               डीन के आश्वासन के बाद कांग्रेसियों ने घेराव को खत्म किया। इस दौरान प्रदेश कांग्रेस कमेटी महामंत्री अटल श्रीवास्तव, शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, वरिष्ठ नेता बैजनाथ चन्द्राकर, शेख गफ्फार, विजय पाण्डेय, किशोरी लाल गुप्ता, एस.पी.चतुर्वेदी, महेश दुबे, अभय नारायण राय, ब्लाक अध्यक्ष तैयब हुसैन, विनोद साहू, नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन, पार्षद शैलेन्द्र जायसवाल, अखिलेश बाजपेयी, एस.डी.कार्टर, रामा बघेल, पंचराम सूर्यवंशी, काशी रात्रे, रमेश गुप्ता, भागीरथी यादव, बंजारे, सीमा पाण्डेय, अनिता लव्हात्रे, चित्रलेखा कंसकार, जयश्री शुक्ला, रेखा टांडी, अफरोज बेगम, मंजू त्रिपाठी, विक्की आहूजा, सुभाष ठाकुर, सुबोध केसरी, जहुर अली, निर्मल बतरा समेत कई कांंग्रेसी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *