शिक्षाकर्मियों का संविलयनः वर्ग -3 के सवा लाख शिक्षकों का सबसे बड़ा सवाल – क्रमोन्नति और वेतन विसंगति का क्या होगा….?


बिलासपुर । शिक्षा कर्मियों के संविलयन की घोषणा के बाद भी अटकलबाजियों औऱ  चर्चाओँ का दौर जारी है। जिसमें एक यह सवाल भी अहम् है कि शिक्षा कर्मी वर्ग – तीन की वेतन विसंगतियों  को लेकर किस तरह की प्रक्रिया अपनाई जा रही है। शिक्षा कर्मियों की कुल संख्या में करीब 70 फीसदी यानी करीब सवा लाख की संख्या सहायक शिक्षक पंचायत की है और पिछले करीब 5 साल से वेतन विसंगतियों की वजह से उन्हे हर महीने वेतन में करीब 10 हजार रुपए का नुकसान हो रहा है।
क्रमोन्नति हमारा अधिकार हम इसे लेकर रहेंगे। प्रदेश  के समस्त 1लाख 24 हजार सहायक शिक्षक पंचायत सवर्ग के साथियों से अपील करते हुए जशपुर जिले का मीडिया प्रभारी अजय कुमार गुप्ता ने बताया कि हम सभी वर्ग 3 की साथी सविलियन की मसौदे जब तक पारदर्शी न हो जाय तब तक हम सब वर्ग 3 के साथी उम्मीद भरी निगाहों से टक टकी लगाये रहेंगे  । क्योंकि पूरी आस है हमारे मोर्चा के प्रदेश संचालकों से औऱ  इस बार सभी संचालकों ने खुले मंच से और सरकार के समक्ष हमारी वर्ग 3 की वेतन विसंगति को दूर करने के लिए पुरजोर तरीके से मांग रखी है और वर्ग  3 की जो वेतन अंतर है उसे लेकर बेहद चिंतित एवं गम्भीर नजर आ रहे हैं।

उन्होने  बताया कि  शिक्षाकर्मियों की कुल संख्या का  69% यानी 124000 वर्ग  3 के हैं। जिनके  शोषित  होने की प्रमुख वजह
सबसे बड़ी वेतन विसंगति 2013 में वर्ग 03 का पुनिरिक्षित वेतन फिक्ससेशन है।
5000*1.86=9300 के बजाय
4000*1.86=7400 में कर दिया गया।
जिसका खामियाजा प्रति माह 8-10 हजार प्रति माह का नुकसान उठाना पड़ रहा है।  2013 में क्रमोन्नति का एक आदेश भी निकला जिससे वर्ग 03 के साथियों में कुछ आस जगी। लेकिन धीरे से उस आदेश को भी प्रभाव से हटा दिया गया।
क्रमोन्नति मिलेगी तो क्या होगा
अजय कुमार गुप्ता ने बताया कि आज पदोन्नति से वंचित हजारों सहायक शिक्षक पंचायत की एक उम्मीद है क्रमोन्नत वेतनमान।
क्रमोन्नति से वर्ग 1 व 2 को वेतन में कोई विशेष अंतर नही किंतु वर्ग 3 को क्रमोन्नति मिलेगी तो उनका मूल वेतन और ग्रेड पे बढ़ जाएगा।
वर्ग 03 का वेतनमान 5200-20200 से 9300-34800 हो जाएगा।
छत्तीसगढ़ में पंचायत शिक्षकों को क्रमोन्नति का प्रावधान नही क्या ये अन्याय नही
M P में 12 साल में अध्पकों की क्रमोन्नति
नियमित शिक्षकों को 10 साल में क्रमोन्नति
देश- विदेश के सभी शासकीय विभागों में एक निश्चित समय के बाद क्रमोन्नति का प्रावधान।
क्रमोन्नति ही है वर्ग 03 की सबसे बड़ी मांग।
वर्ग 03 की होगी उन्नति जब उसे मिलेगी क्रमोन्नति
एक नज़र केंद्रीय विद्यालय के शिक्षकों को दिए जाने वाले वेतनमान पर
PGT teacher 9300-34800-4800
TGP teacher 9300-34800-4600
Primary teacher 9300-34800-4200
तो छत्तीसगढ़ के सहायक शिक्षक पंचायत के वेतनमान में इतना अंतर क्यों???
हम संविलियन का विरोध नही करते परन्तु 2013 में जिस प्रकार से वर्ग 03 ठगे गए उसे इस बार नही दोहराया जाय।
वर्ग 03 की वेतन विसंगति को दूर करते हुए संविलियन किया जाय। इसी में 1 लाख 24 हज़ार सहायक शिक्षक पंचायत का हित है।
अजय कुमार गुप्ता ने आगे कहा कि प्रदेश के  मुख्यमंत्री  डॉ रमन सिंह से प्रदेश के समस्त सहायक शिक्षक आग्रह करते हैं कि क्रमोन्नति पे सविलियन कर वर्ग 03 की वेतन विसंगति को दूर करें ताकि सबका परिवार सुखी हो सके।
हम सब वर्ग 03 के साथी मोर्चा के प्रदेदश संचालकों पर उम्मीद और भरोसा  बनाये रखें है जो वर्ग 03 की वेतन में प्रति माह 8 हजार से अधिक रूपये का नुकसान हो रहा है उससे इस बार सहायक शिक्षक पंचायत सवर्ग को न्याय दिलाएंगे।अगर इस बार भी अगर वर्ग 03 की वेतन विसंगति दूर नही होता है तो हम समस्त 1 लाख 24 हजार सहायक शिक्षक पंचायत राजधानी में बैठक कर ठोस रणनीति बनाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *