MS Dhoni ने खोला IPL 2018 में अपनी बेहतरीन बल्लेबाजी का राज

नई दिल्ली-चेन्नई सुपर किंग्स को तीसरा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) खिताब दिलाने वाले कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने माना है कि उम्र का असर उनकी बल्लेबाजी पर पड़ रहा है।वह अब निचलेक्रम में बल्लेबाजी करते हुए फंसा हुआ महसूस करते हैं और इसलिए अब थोड़ा ऊपर आकर बल्लेबाजी करना पसंद कर रहे हैं।धोनी ने आईपीएल के इस सीजन में 16 मैचों में 455 रन बनाए और टीम के मध्यक्रम की जिम्मेदारी को बखूबी संभाला।वेबसाइट ईएसपीएन क्रिकइंफो ने धोनी के हवाले से लिखा है, ‘मेरी सोच साफ थी कि मैं अब ऊपर आकर बल्लेबाजी करना चाहता हूं क्योंकि उम्र के कारण निचले क्रम में बल्लेबाजी करते हुए मुझे परेशानी होती है, मैं फंसा हुआ महसूस करता हूं।’यहां एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए भारतीय टीम के पूर्व कप्तान ने कहा, ‘मैं इस बात को आश्वस्त करना चाहता था कि मैं मैच को खत्म करने और टीम के जीत दिलाने की जिम्मेदारी लूं, लेकिन निचले क्रम में आते हुए मैं अपने आप को समय नहीं दे पा रहा था।’

धोनी ने कहा, ‘इसलिए मेरे लिए यह मुश्किल था। मैंने ऐसी टीम बनाई जिसकी बल्लेबाजी में गहराई हो ताकि मैं ऊपर आकर खेल सकूं। मेरे लिए ऊपर आने का मतलब तीसरे, चौथे या और किसी नंबर पर बल्लेबाजी करने से नहीं है बल्कि इस बात से है कि मेरे पास ओवर कितने बचे हैं।’धोनी की कप्तानी में चेन्नई ने 2010, 2011 और 2018 में तीन बार आईपीएल खिताब पर कब्जा जमाया है। वह इस आईपीएल में दो साल के प्रतिबंध के बाद आई थी। चेन्नई ने अभी तक नौ आईपीएल खेले हैं जिसमें हर बार वह प्लेऑफ में जगह बनाने में सफल रही है। उसने सात बार फाइनल में प्रवेश किया है।

आईपीएल के सबसे सफल कप्तान धोनी ने कहा, ‘मैंने कहा था कि मैं ऊपर बल्लेबाजी करना चाहता हूं ताकि जब मैं बल्लेबाजी करने जाऊं तो मैं आक्रामक होकर बल्लेबाजी कर सकूं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *