गाँव-घर के पास पहुंच चुकी कार हादसे का शिकारः न्यायाधीश राठिया का निधन

बिलासपुर । जिला सत्र न्यायलय के अंतर्गत परिवार न्यायालय के अतिरिक्त प्रधान न्यायाधीश दिलेश्वर सिंह राठिया का एक कार हादसे में दुखद निधन हो गया। वे करीब 54 साल के थे। हादसा बीती रात उस समय हुआ जब अपने गाँव के करीब ही  पहुंच चुके दिलेश्वर सिंह राठिया की कार अनिंयंत्रित होकर सड़क के नीचे उतर गई । इसे हादसे में मौके पर  दो लोगोों की मौत हुई है। जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल बताए गए हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक परिवार न्यायालय के न्यायाधीश दिलेश्वर सिंह राठिया अपने परिवारजन के साथ छुट्टी मनाने रायगढ़ जिले के अपने गाँव छाल जा रहे थे। वे कार से जा रहे थे और कार में 5 लोग सवार थे। देर रात उनकी कार खरसिया से धरमजयगढ़ रोड पर उनके गृह ग्राम छाल से करीब 15 किलोमीटर पहले जनकपुर गाँव तक पहुंच चुकी थी। इसी दौरान उनकी कार अनियंत्रित होकर सड़क से उतर गई  और गंभीर हादसे का शिकार हो गई । जिससे कार सवार न्यायाधीश दिलेश्वर सिंह राठिया और एक अन्य परिजन की मौके पर ही मौत हो गई। दो अन्य लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। जिनका इलाज चल रहा है। दिलेश्वर सिंह राठिया  के सड़क हादसे में निधन की खबर से न्यायालय परिसर में शोक की लहर फैल गई। जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष चंद्र शेखर बाजपेयी ने बताया कि 13 जून बुधवार को आयोजित शोकसभा में उन्हे श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *