पूजा अर्चना के बाद शुरू होगी कांग्रेसियों की पदयात्रा…चरणदास भी होंगे शामिल..भूपेश ने क्यों दिया जांच का आदेश

बिलासपुर–अरपा विकास प्राधिकरण को भंग करो, अरपा किनारे निवासियों का भयादोहन बंद करों। अरपा नदी को कचरे का ढेर बनाना बंद करो। अरपा नदी में नालों का गंदा पानी डालना बंद करों, अरपा के दोनों किनारों पर सघन वृक्षारोपण अब तक क्यों नहीं। गिरता जलस्तर, सूखी अरपा का जवाबदार कौन ? इन मुद्दों के साथ जिला कांग्रेस ग्रामीण कमेटी 9 जून को दोपहर 3 बजे से मस्तूरी विधानसभा क्षेत्र के दोमुहानी ग्राम पंचायत से मनकादाई मंदिर दर्शन के बाद कांग्रेस की अरपा बचाओ पदयात्रा प्रारंभ होगी।
                 कांग्रेस की अरपा बचाओ पदयात्रा को चुनाव अभियान समिति के प्रमुख डाॅ. चरणदास महंत हरी झण्डी दिखाएंगे। पदयात्रा का श्रीगणेश 9 जून को दो मुंहानी ग्राम पंचायत के बूटापारा स्थित मनका देवी मंदिर दर्शन के बाद शुरू होगा। इस दौरान राष्ट्रीय सचिव चंदन यादव, प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, जिलाध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, मस्तूरी विधायक दिलीप लहरिया विशेष रूप से शामिल होंगे। पदयात्रा की जानकारी देते हुये प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय ने बताया कि आज यात्रा की सम्पूर्ण तैयारी को लेकर मस्तूरी ब्लाॅक अध्यक्ष विरेन्द्र शर्मा, बिल्हा ब्लाॅक अध्यक्ष विनोद दिवाकर, देवरीखुर्द और बूटापारा के वरिष्ठ कांग्रेसजन के साथ बैठक हुई। इस दौरान उपसरपंच ब्रम्हदेव सिंह, पूर्व सरपंच मनिहार निषाद, पंचू नेताम, पूर्व सरपंच दोमुहानी लालजी धीरज, रामकुमार कश्यप, संतू चौहान समेत कई वरिष्ठ कांग्रेस नेता भी मौजूद ते।
                       अभय ने बताया कि एक समय दोमुहानी, बूटापारा, मानिकपुर के किसान नदी बाड़ी लगाते थे। अरपा में पानी भरा रहता था। मनकादाई मंदिर के पास दो नदियाँ खारून और अरपा मिलती हैं। इसलिए उसका नाम दोमुहानी पड़ा ।  जिला कांग्रेस कमेटी ने अरपा को नई जिन्दगी देने अरपा बचाओ पदयात्रा के माध्यम से सरकार को जगाने का फैसला किया है। कांग्रेस पार्टी कागज पर अरपा प्रोजेक्ट बनाकर झूठा सपना दिखाने के खिलाफ है। यात्रा में कांग्रेस नदी बाड़ी लगाकर भरण-पोषण करने वाले किसानों के साथ चलेगी। अरपा तट के दोनों तरफ बसने वाले लोगों की आवाज भी उठाएगी। पदयात्रा 9 जून से 13 जून तक चलेगी।

आत्महत्या जांच का आदेश

कांग्रेस पार्टी ने जिले के गौरेल्ला विकासखंड अंतर्गत ग्राम पिपरिया निवासी किसान सुरेश मरावी की आत्महत्या को गंभीरता से लिया है। कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया है कि सुरेश मरावी कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या की है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल ने प्रदेश कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष रामदयाल उईके के संयोजन में सात सदस्यीय जांच समिति का गठन किया है।

                     जांच समिति में प्रदेश कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष रामदयाल उईके, एआईसीसी सदस्य उत्तम वासुदेव, बिलासपुर जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी, किसान कांग्रेस जिला अध्यक्ष सुनील शुक्ला, पेण्ड्रा ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष प्रशांत श्रीवास, गौरेल्ला ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष अमोल पाठक, मरवाही ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष मनोज गुप्ता को शामिल किया गया है।

                        यह जानकारी प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय ने दी हैै। राय ने बताया कि जांच समिति के सदस्य मृतक किसान के परिजनों और ग्रामवासियों से भेंटकर घटना की वस्तुस्थिति की रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस कमेटी को देंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *