…जब एसपी से बात नहीं बनी..तो पिता ने आईजी का दरवाजा खटखटाया…कहा साहब बेटी को न्याय दिला दो

बिलासपुर— बूढ़े पिता को जब न्याय नहीं मिला तो…बेटी को न्याय दिलाने कबीरधाम से बिलासपुर आईजी कार्यालय पहुंच गया। बूढे पिता ने बताया कि ससुराल वालों ने उसकी बेटी को जलाकर मार डाला। थाने में रिपोर्ट भी दर्ज कराया। दो आरोपियों को तो पकड़ लिया गया…लेकिन पुलिस वालों ने दो आरोपियों को खुले आम होने के बाद भी नहीं पकड़ा। बूढे पिता ने बताया कि अब तो दोनों धमकी देते हैं..जो करना है कर लो। मुंगेली एसपी से भी फरियाद की। लेकिन कुछ होता नहीं देख..आईजी से न्याय मांगने आया हूं।

             कबीरधाम से बिलासपुर आईजी कार्यालय में गुहार लगाने पहुंचे एक बेबस पिता ने बताया कि उसका नाम बहोरिक साहू है। अतरिया खुर्द तहसील पण्डरिया जिला कबीरधाम का रहने वाला है। बहोरिक ने बताया कि करीब दस साल पहले बेटी का विवाह मुंगेली जिले के ग्राम सिल्ली थाना फास्टरपुर निवासी भगत साहू पिता अंजोरी साहू से किया।

                         शादी के बाद इन दस सालों में ससुराल वालों ने दहेज के लिए बेटी को मारा पीटा और घर से कई बार निकाला।  समझाइश के बाद ससुराल वाले कुछ दिनों तक मारपीट का सिलसिला बंद रखते। इसके बाद फिर मारपीट और प्रताडित करने का सिलसिला शुरू हो जाता था।

             बहोरिक साहू ने आईजी दीपाशु काबरा के कार्यालय में लिखित शिकायत कर बताया कि बेटी का नाम पुष्पा साहू है। 30 मार्च 2018 की रात्रि को ससुराल वालों ने मिलकर मिट्टी तेल डालकर जला दिया। मामले में रिपोर्ट फास्टरपुर थाने में 2 अप्रैल को दर्ज कराया। रिपोर्ट में चारो आरोपी भगत साहू,अंजोरी साहू,संतोष साहू और प्रभात साहू का नाम भी लिखाया। लेकिन पुलिस ने केवल भगत साहू और अंजोरी साहू को पकडा। बाकी दो आरोपी खुले आम घूम रहे हैं। धमकी दे रहे हैं कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता।

                 बहोरिक के अनुसार खुलेआम घूम रहे दोनों आरोपियों की शिकायत लेकर फास्टरपुर थाना प्रभारी के बाद मुंगेली पुलिस अधीक्षक के पास भी गए। लेकिन किसी ने मेरी शिकायत को गंभीरता से नहीं लिया।आईजी से लिखित में गुहार लगाते हुए बहोरिक ने कहा कि दोनों आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *