दिनचर्या में खेलों को शामिल करें तो कभी डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं-निकाय मंत्री

बिलासपुर।खेलों से शारीरिक और मानसिक विकास होता है। फिट रहने के लिये आजकल लोग जिम का सहारा लेते हैं जबकि खेलों में हिस्सा लेते रहने से बिना जिम गये फिट रहा जा सकता है। जिन्होंने खेलों को जीवन में आवश्यक रूप से शामिल किया है उन्हें कभी डॉक्टर के पास जाने की जरूरत नहीं पड़ती है। खेलों में हिस्सा लेने से हम स्वस्थ्य बने रहते हैं। उक्त विचार नगरीय प्रशासन मंत्री अमर अग्रवाल ने ग्रीष्म कालीन प्रशिक्षण शिविर के समापन के अवसर पर व्यक्त किये। श्री अग्रवाल ने कहा कि बहुत जल्द ही बिलासपुर में डेढ़ सौ करोड़ की लागत से राज्य स्तरीय खेल प्रशिक्षण केंद्र बनने वाला है जिसमें 28 खेलों का प्रशिक्षण दिया जा सकेगा।

जहां मैदान, ऑडिटोरियम, एस्ट्रोटर्फ समेत खिलाड़ियों के लिये सभी सुविधाएं मौजूद रहेंगी। उन्होंने कहा कि खेल में कभी हम आगे होते हैं कभी पीछे होते हैं। यही अनुभव हमारे जीवन में भी काम आता है। इतनी गर्मी के बावजूद ये आपकी लगन है कि इतनी संख्या में प्रशिक्षण शिविर में हिस्सा लिया।

ग्रीष्मकालीन खेल प्रशिक्षण शिविर का समाप पुलिस लाईन ग्राउण्ड में हुआ। प्रशिक्षण शिविर के दौरान बॉक्सिंग, कबड्डी, बास्केटबाल, हॉकी, फुटबाल, वॉलीबाल, तीरंदाजी, तैराकी,कराटे, जूडो, सॉफ्टबॉल, खो-खो, हैण्डबॉल जैसे लोकप्रिय खेलों का प्रशिक्षण दिया गया। समापन अवसर पर प्रशिक्षणार्थियों को  प्रमाणपत्र एवं खेल किट का वितरण किया गया। कार्यक्रम में महापौर किशोर राय, जिला खेल अधिकारी ए एक्का, जिला ओलंपिक संघ के अध्यक्ष  पंकज तिवारी समेत सभी खेलों के कोच एवं प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *