वेंटिलेटर से हटते..जब जोगी ने कहा…पहाड़ों का सफ़र है, शीशे का बदन है; ठीक हो रहा हूँ, आपकी दुआओं का असर है

बिलासपुर— अजीत जोगी का स्वास्थ्य पिछले दो तीन दिनों से बेहतर है। जोगी गुड़गांव स्थित मेदांता अस्पताल में भर्ती हैं। जनता कांग्रेस प्रवक्ता मणिशंकर पाण्डेय  और मेदांता में मौजूद समीर अहमद ने बताया कि डॉक्टरों ने उचित चेकअप के बाद वेंटिलेटर हटा दिया है। वेंटिलेटर हटाए जाने के बाद अजीत जोगी सामान्य महसूस कर रहे हैं।

                  मणिशंकर पाण्डेय ने बताया कि डॉ.रमन जोगी के मेडिकल बुलेटिन जारी होने के बाद बताया कि अजीत जोगी वेंटिलेटर से बाहर आ गए हैं। उनका स्वास्थ्य सामान्य है। चार बजे मेडिकल बुलेटिन जारी कर डॉ.रमन जोगी ने बताया कि दोपहर तीन बजकर 10 मिनट पर अजीत जोगी को वेंटिलेटर-सपोर्ट से हटाया गया है। वे पूरी तरह से, बिना किसी इन्वेसिव सहायता के, ख़ुद से साँस ले रहे हैं।

              मेडिकल बुलेटिन के अनुसार जोगी का ब्लड प्रेशर, हॉर्ट रेट, ऑक्सिजन सैचुरेशन, रेस्प्रिटॉरी रेट, यूरिन आउट्पुट सभी कुछ सामान्य है। शारीरिक प्रक्रियाँ पूरी तरह से सामान्य  है। डॉक्टरों ने बताया कि अजीत जोगी अब अधिकृत रूप से “संक्रमण-मुक्त” हैं।

                        डॉक्टर नरेश त्रेहन और डॉक्टर यतिन मेहता के चिकित्सीय दल ने अजीत जोगी को पिछले दो महीनों से हो रहे संक्रमण का “प्राथमिक कारण” का चिन्हांकन कर उपचार प्रारम्भ कर दिया है। इस से भविष्य में संक्रमण की सम्भावनाओं पर भी रोक लग सकेगी।

   अजीत जोगी का इलाज कर रहे चिकित्सीय दल ने संक्रमण की सभी सम्भावनाओं पर विराम लगाने का प्रयास कर रहे हैं। सूक्ष्मता से चिकित्सीय निगरानी बनाए रखने के लिए जोगी को ICU के “नेगेटिव प्रेशर रूम” के एकांत में रखने का निर्णय लिया है। आने वाले कुछ कुछ दिनों तक जोगी किसी से मिल नहीं सकेंगे।

                                वेंटिलेटर से हटने के बाद अजीत जोगी से धर्मपत्नी डॉक्टर रेणु जोगी, पुत्र अमित जोगी और पुत्र-वधु डॉक्टर ऋचा जोगी ने मुलाक़ात की। अजीत जोगी ने अपने सभी शुभचिंतकों को उनकी शुभकामनाओं के लिए विशेष रूप से धन्यवाद दिया है। शुभचिन्तकों के लिए शेर भी पेश किया। उन्होने कहा  कि- पहाड़ों का सफ़र है, शीशे का बदन है; ठीक हो रहा हूँ, आपकी दुआओं का असर है।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *