अधिकारी फेडरेशन की शासन को चुनौती…कहा पुराने वादे को पूरा करे सरकार…या फिर आंदोलन लिए रहे तैयार

बिलासपुर–छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन के प्रांतीय आह्वान पर कर्मचारियों ने कलेक्टर कार्यालय का घेराव किया। इस दौरान फेडरेशन के घटक संगठनों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया। छत्तीसगढ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी ने बताया की भाजपा सरकार ने अपने घोषणा पत्र में किए गए वादों को अभी तक पूरा नहीं किया है।

                  रोहित तिवारी ने बताया कि साल  2013 में भाजपा ने संकल्प पत्र जारी कर कहा था कि कर्मचारी हित के वादे जो लम्बित हैं उन्हें सरकार बनते ही पूरा कर दिया जाएगा। रोहित तिवारी ने कहा कि 2018 चुनाव सिर पर है। नया संकल्प पत्र भी जल्द ही सामने आ जाएगा। सवाल उठता है कि 2013 में लिए गए संकल्प को सरकार कब पूरा करेगी।

                        लिपिक वर्गीय कर्मचारी नेता ने बताया कि यदि पुराने संकल्प पत्र के वादे को शासन पूरा नहीं करता है तो नए संकल्प पत्र की विश्वसनीयता पर भी प्रश्न चिन्ह लगेगा । फेडरेशन की माँग है की चार स्तरीय पदोन्नति वेतनमान ,लिपिक संवर्ग की वेतन विसंगति ,सातवें वेतनमान का एरियर्स ,महँगाई भत्ता ,समेत कर्मचारी हित मॆ किये गये वादे शासन पूरा करे।

   रोहित ने बताया कि वादों को याद दिलाने प्रदेश के सभी जिलों तहसीलो में लिखित पत्र देकर शासन का ध्यान आकृष्ट कराया गया है। बावजूद इसके शासन वादे से मुकरता है तो प्रदेश के ढाई लाख कर्मचारी सड़क पर उतरने को तैयार हैं। साथ ही उग्र आंदोलन किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *