जोगी के बयान पर कांग्रेस में आक्रोश..पुलिस कप्तान से कहा…चुनाव से पहले हुआ जग्गी और झीरमकाण्ड..षड़यंत्रकारियों पर हो कार्रवाई

बिलासपुर— कांग्रेस नेताओं ने पुलिस कप्तान से मुलाकात कर जनता कांंग्रेस प्रवक्ता और नेता पर राहुल गांधी के खिलाफ दिेए गये अमर्यादित बयान की निंदा की है। पीसीसी महामंत्री अटल श्रीवास्तव की अगुवाई में कांग्रेसियों ने पुलिस मेस पहुंचकर पुलिस कप्तान को बताया कि अमित जोगी और उनके प्रवक्ता ने बयान दिया है कि राहुल गांधी की कोटमी में 13 वीं कब्र बनेगी। दोनों के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया जाए। पुलिस पूछताछ हो कि बयान के पीछे की सच्चाई क्या है। इस दौरान पीसीसी महामंत्री और प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा  कि हर चुनाव के पहले कांग्रेस नेतृत्व को नुकसान हुआ है। चाहे 2003 की जग्गी हत्याकाण्ड हो या फिर 2013 झीरम काण्ड।  बयान के पीछे जनता कांग्रेस नेताओं से षड़यंंत्र की बू आ रही है। जबकि चुनाव 2018 सिर पर है।

                     मालूम हो कि एक दिन पहले मीडिया में जनता कांग्रेस प्रवक्ता ने अमित जोगी का बयान जारी किया  कि कोटमी में 13 वीं कब्र बनेगी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी की जान को खतरे में डाल रहे हैं। समाचार पढ़ने के बाद कांग्रेसियों में भारी आक्रोश है। कांग्रेस प्रवक्ता अभय नारायण राय ने बताया कि मामले को लेकर अटल श्रीवास्तव की अगुवाई में पुलिस कप्तान से कांग्रेस नेताओं ने शिकायत की है। इस दौरान अटल श्रीवास्तव के अलावा, बीडीए पूर्व अध्यक्ष शेख गफ्फार,निगम नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन,वरिष्ठ कांग्रेस नेता जसबीर गुम्बर, जिला शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, पूर्व शहर अध्यक्ष रविन्द्र सिंह,पार्षद दल प्रवक्ता शैलेन्द्र जायसवाल,पार्षद दीपाशुं श्रीवास्तव,धर्मेश शर्मा,विक्का आहुजा,कांग्रेस नेत्री अनिता लव्हात्रे,समते कई लोग मौजूद थे।

                            अभय के अनुसार कांग्रेस नेताओं ने जनता कांग्रेस प्रवक्ता और मरवाही विधायक के राहुल गांधी पर दिए गए बयान को पुलिस कप्तान के सामने रखा। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि इस प्रकार का बयान किसी गहरी साजिश की तरफ इशारा करते है। क्योंकि पार्टी ऐसे षडयंत्रो का कई बार शिकार हो चुकि है। ठीक चुनाव के पहले कब्र और जिन्दगी खतरे में डालने वाले बयान गंभीर षडयन्त्र की तरफ इशारा करते हैं।

           पुलिस कप्तान को अटल समेत सभी कांग्रेसियों ने बताया कि अमित जोगी और उनके प्रवक्ता के बयान को गंभीरता से लेने की जरूरत है। अटल ने कहा कि  2003 ठीक चुनाव के पहले जग्गी हत्याकाण्ड को अभी तक कोई नहीं भूला है। 2008 चुनाव के समय जान जोखिम में डालने वाली कई घटनाएं हुई है। इसी तरह 25 मई 2013 ठीक चुनाव से पहले झीरम में कांग्रेस पार्टी ने अपने अग्रिम पंक्ति के नेताओं को शहीद होते देखा। एक बार फिर जनता कांग्रेस प्रवक्ता और मरवाही विधायक का बयान खतरे की आशंका को जन्म दे रहे हैं।

                              अभय नारायण राय ने बताया कि पहले हुए सभी हादसे सके बाद विभिन्न सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इशारा हर बार एक ही तरफ जाता है। जग्गी हत्याकाण्ड के समय पुलिस कार्रवाई भी हुई। झीरम हत्याकाण्ड  में किसका हाथ है सबको पता है। इस दौरान पुलिस कप्तान ने आशंका को गंभीरता से लेने का आश्वासन दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *