भाजपा ने उछाला जिन्ना और टीपू का मुद्दा–रिजवी ने कहा..जिन्ना ने देश ही नहीं..दिल और दिमाग को भी बांटा

रायपुर—जोगी जनता कांग्रेस मीडिया प्रमुख इकबाल अहमद रिजवी ने पाकिस्तान के निर्माता मोहम्मद अली जिन्ना को विभाजन के लिये दोषी बताया है। जिन्ना ने न केवल देश का बटवारा कर अक्षम्य अपराध किया बल्कि लोगों के दिलों-दिमाग को भी बांटकर रख दिया है। जिसकी भरपायी आजादी के 70 सालों बाद भी नही हो पा रही है।
                  इकबाल रिजवी ने बताया कि पाकिस्तान का निर्माण जिन्ना के दिमागी फितूर को जाहिर करता है। जिन्ना ने दुर्भावना ने मुसलमानों का अहित किया है। पाकिस्तान मेे भी उन्हे ज्यादातर लोग पसंद नही करते है। जिन्ना की गैर इस्लामिक आदते नमाज और कुरानशरीफ न पढ़ना, शराब पीना और सुअर का मांस खाना गुनाह की अक्षम्य श्रेणी में आता है। ऐसी आदते ईस्लाम में वर्जित है। इससे समझा जा सकता है कि जिन्ना का ईमान ईस्लाम के सिद्धातों के विपरीत था।
                       रिजवी ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि ठीक चुनाव के पहले साम्प्रदायिक और विभाजनकारी तत्व देश के सौहार्द्र को नष्ट करने के लिए जिन्ना और मैसूर के पूर्व शासक टीपू सुल्तान जैसे संवेदनशील मुद्दों को उठाकर मतदाताओं के बीच धु्रवीकरण का बीज बोना शुरू कर दिया है। लेकिन देश का मतदाता जागरूक है। वह अपनी भावनाओं का दोहन होने नही देगा। आगामी चुनावों में सम्प्रदायिकता और अलगांववाद में विश्वास रखने वाले दलों और संगठनों के भ्रम जाल में मतदाता फसने वाला नही है।
               रिजवी ने बताया कि देश की अस्मिता और लोकतंत्र की निहित भावना का अहित करने वाले दल, संगठनों को सत्ता से दूर रखने का मन जनता ने बना लिया है। देश की एकता एवं अखंण्डता वर्तमान परिवेश में सर्वोपरि है। जिन्ना और टीपू सुल्तान का नाम जपने से अच्छा है कि विध्वंसक तत्व अपने आराध्य के बताये हुये सद्भावना के मार्ग पर चले ।  देश के सौहार्द्र और प्रगति का मार्ग प्रशस्त करने आगे आये। अतीत के संवेदनशील मुद्दों को उभारकर देश में असहिष्णुता का वातावरण निर्मित करना देश हित के विपरीत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *