नहीं रहे छत्तीसगढ़ आंदोलन के सूत्रधार….मशहूर साहित्यकार केयूर भूषण का निधन…कांग्रेस ने कहा खत्म हो गया एक युग

बिलासपुर—मशहूर गांधीवादी नेता, स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, कांग्रेस के पूर्व सांसद केयूर भूषण नहीं रहे। केयूर भूषम के निधन पर बिलासपुर जिला कांग्रेस कमेटी ने शोक जताया है।  कांग्रेस नेताओं ने कहा कि केयूर भूषण का आकस्मिक निधन प्रदेश राजनीति को क्षति पहुंचाने वाला है। उनके योगदान को प्रदेश की जनता हमेशा याद रखेगी।

                        प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रवक्ता अभय नारायण राय ने रायपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस सांसद रहे केयूर भूषण के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है।  अभय ने बताया कि छत्तीसगढ़ के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी गांधीवादी नेता केयूर भूषण के आकस्मिक निधन से प्रदेश की राजनीति को गहरा आघात लगा है। बहुमुंखी प्रतिभा के धनी केयूर भूषण अपने मुखबर विचारों के लिए जाने जाते हैं। उन्होने पत्रकारिता के साथ साहित्य के क्षेत्र में अहम स्थान हासिल किया है।

                                 प्रदेश की जनता केयूर भूषण को छत्तीसगढ़ आंदोलन के अग्रणी नेताओं के रूप में जानती है। अभय ने बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य के परिकल्पना करने वालों में अग्रणी रहे कयूर भूषण के निधन सभी विधाओं में खालीपन सा महूसस हो रहा है। उनके निधन से छत्तीसगढ़ से एक युग की समाप्ति हुई है।

                साल 1928 में दुर्ग जिले के जाता गांव में केयूर भूषण का जन्म हुआ। युवा अवस्था में महात्मा गांधी के संपर्क में आये। 1942 भारत छोड़ो आंदोलन में भाग लिया। स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन में भाग लेते हुए अलग-अलग समय में उन्होंने 4 वर्ष जेल में काटा। राजनीतिक और समाज सेवा से उनका लगाव छात्र जीवन से ही था।

               1980 से 1999 के बीच कांग्रेस की टिकट पर दो बार रायपुर लोकसभा सीट से सांसद बने । 2001 में छत्तीसगढ़ शासन ने पंडित रवि शंकर शुक्ल सद्भावना पुरूस्कार से सम्मानित किया । उन्होने साहित्य क्षेत्र को लहर, मरजात, कहां बिलागे मारे धान के कटोरा, नित्य प्रवाह, कालू भगत, आंसू म फिले अचरा, मोर मारूक, हीरा के पीरा, डोंगराही रद्दा, लोकलाज, बलिहारी जैसे उपन्यास और कहानी संग्रह की रचना कर योगदान दिया। उन्होंने कई अखबारों में पत्रकार और संपादक के रूप में कार्य किया।  रायगढ़ का प्रमुख चक्रधर समारोह और गणेश मेला केयूर भूषण की देन मानी जाती है।

                                    बिलासपुर जिला शहर कांग्रेस ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया है।शोकसबा के दौरान रद्धांजली देने वालों में प्रदेश कांग्रेस महामंत्री अटल श्रीवास्तव, जिला अध्यक्ष विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, कार्यकारिणी सदस्य शेख गफ्फार, कृष्ण कुमार यादव, प्रदेश सचिव रामशरण यादव, अर्जुन तिवारी, आशीष सिंह, महेश दुबे, विवेक बाजपेयी, प्रदेश प्रवक्ता शैलेश पाण्डेय, अभय नारायण राय, शहर प्रवक्ता ऋषि पाण्डेय, नेता प्रतिपक्ष शेख नजरूद्दीन, ब्लाक अध्यक्ष तैयब हुसैन, विनोद साहू प्रमुख रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *