अजीत जोगी की नसीहत…पार्षद लायक नहीं है उप मुख्यमंत्री…गैंगरेप को साम्प्रदायिक चश्में से देखना…बड़ी भूल

रायपुर—- जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ अध्यक्ष अजीत जोगी ने जम्मु कश्मीर कठवा काण्ड पर राज्य के उप-मुख्यमंत्री कविन्दर गुप्ता के बयान की निंदा की है। जोगी ने कहा कि मासूम बच्ची के साथ गैंगरेप फिर हत्या किये जाने की घटना को छोटी बात कहकर उप-मुख्यमंत्री ने स्तरहीन मानसिकता का परिचय दिया है। जहां दर्दनाक हादसे ने देशवासियों को झिझोड़कर रख दिया है। ऐसी दरिंदगी को छोटी सी बात कहना उपमुख्यमंत्री के दिमागी दिवालियापन को जाहिर करता है।

                     अजीत जोगी ने कहा कि  संघ और  भाजपा को दाद देना चाहिए कि ऐसी मानसिकता वाले व्यक्ति को कश्मीर का उप मुख्यमंत्री बनाया है। कविन्दर गुप्ता की सोच ने सिद्ध कर दिया है कि भाजपा और संघ वर्ग विशेष के प्रति घटिया टिप्पणी करने वाला व्यक्ति विधायक तो क्या पार्षद के लायक भी नहीं है। कविन्दर गुप्ता ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नसीहत को नजरअंदाज कर असंवेदनशील और अमर्यादित बयान दिया है। उपमुख्यमंत्री गुप्ता की उदण्डता का प्रतीक है।

                     पूर्व मुख्यमंत्री जोगी ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि कठवा गैंगरेप मासूम बच्ची के साथ जघन्य अपराध जैसा ईश्वर न करें। यदि गुप्ता के परिवार के किसी सदस्य के साथ ऐसी घटना होती तो क्या गुप्ता के लिये गैंगरेप तब भी छोटी सी बात होती। गुप्ता ने कठवा गैंगरेप हत्या को छोटी सी बात इसलिये कही क्योंकि हादसे में पीड़ित बच्ची वर्ग विशेष की है। यदि ऐसी सोच के तहत गुप्ता ने बात कही है तो उन्हें उप मुख्यमंत्री जैसे गरिमामय पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है।

                       जोगी ने कहा कि दुष्कर्म किसी भी समाज या वर्ग की कन्या के साथ होता है…अक्षम्य अपराध है। दिल्ली की निर्भया या कठवा की मासूम के साथ गैंगरेप और हत्या को अलग-अलग नजरिये या चश्में से देखना सांप्रदायिक और अमानवीय सोच को उजागर करने वाला कृत्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *