जब शिक्षाकर्मी नेताओं ने कहा..बहुत हुआ….विकास यात्रा के दिन ही करेंगे महापंचायत…सरकार को दिखाएँगे 1 लाख 80 हजार शिक्षकों की ताकत

बिलासपुर—रायपुर में शिक्षाकर्मी संघ नेताओं के साथ मुख्य सचिव की अध्यक्षता में बैठक बेनतीजा साबित हुई। शिक्षाकर्मी नेताओं को बैठक के दौरान बताया कि कमेटी राजस्थान का दौरा कर चुकी है। भविष्य़ में मध्यप्रदेश का भी दौरा करेंगी। एक महीने के अन्दर रिपोर्ट को शासन के सामने पेश कर दिया जाएगा। इस दौरान शिक्षाकर्मियों ने एक बार फिर 9 सूत्रीय मांगों को प्रमुखता से रखा। साथ ही रिपोर्ट 5 मई को ही पेश करने को कहा।
                     शिक्षाकर्मी नेताओं और राज्य सरकार प्रमुख अधिकारियों के बीच प्रमुख सचिव की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में शिक्षाकर्मी नेताओं ने 9 सूत्रीय मांग को एक बार फिर प्रमुखता से साथ उठाया। राज्य शासन के प्रतिनिधि मंडल ने शिक्षाकर्मी नेताओं को बताया कि 9 सूत्रीय मांगों को ध्यान में रखकर राज्य शासन ने कमेटी का गठन किया है। कमेटी राजस्थान शिक्षाकर्मी मॉडल का गहनता से अध्ययन कर चुकी है। जल्द ही टीम मध्यप्रदेश मॉडल का अध्ययन करने भोपाल रवाना होगी। अधिकारियों से मेल मुलाकात के बाद मॉडल को जांचा परखा जाएगा। संभावना है कि आने वाले एक महीने के अन्दर शासन के सामने रिपोर्ट पेश कर दिया जाएगा।
                                       बैठक में राज्य शासन की तरफ से प्रमुख अधिकारियों के अलावा कमेटी सदस्य और शिक्षाकर्मियों के 7-8 संघों ने हिस्सा लिया। शिक्षाकर्मी नेताओं ने संविलियन क्रमोन्नति स्थानांतरण नीति समेत सभी बिन्दुओं पर बारी बारी चर्चा की। अधिकारियों ने बताया कि सभी मांगों और मुद्दों पर गंभीरता से विचार किया जा रहा है।  दोनों राज्यों के मॉडल को जांचने परखने के बाद शासन के सामने रिपोर्ट जल्द ही पेश करेंगे।
 कमेटियों का झुनझुना
                      बैठक के बाद छत्तीसगढ़ नगरीय निकाय एवं पंचायत मोर्चा नेता विकास राजपूत ने बताया कि 11 मई को मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह विकास यात्रा की शुरुआत करेंगे। शिक्षाकर्मी संगठन ने उसी दिन रायपुर में महापंचायत बुलाने का फैसला किया है। विकास ने बताया कि प्रदेश सरकार शिक्षाकर्मियों के साथ मजाक कर रही है। सरकार अब चला चली के बेला में है। शिक्षाकर्मियों को बार बार कमेटी का झुनझुना थमाया जा रहा है। 11 मई को प्रदेश के 1 लाख 80 हजारा शिक्षाकर्मी भरी गर्मी में इकट्ठा होंगे। महापंचायत में सरकार के खिलाफ आक्रमक निर्णय लिया लेंगे।
                                   विकास ने बताया कि आज की बैठक में शिक्षाकर्मियों नेताओं ने कहा कि सरकार 5 मई को रिपोर्ट पेश करे। रिपोर्ट पेश करने के साथ संविलियन का एलान भी करे।  बैठक में चीफ सिकरेट्री अजय सिंह पंचायत विभाग डायरेक्टर तारण प्रकाश सिन्हा, सामान्य प्रशासन विभाग, वित्त विभाग, आदिम जाति कल्याण विभाग और नगरीय निकाय विभाग के सचिव और एसीएस स्तर के अधिकारी मौजूद थे। छत्तीसगढ़ नगर निकाय एवं पंचायत शिक्षक मोर्चा की तरफ से संजय शर्मा, वीरेंद्र दुबे, विकास राजपूत और केदार जैन चंद्रदेव राय बैठक में शामिल हुए। एकता मंच की तरफ से कई शिक्षाकर्मी संघ के पदाधिकारी भी मौजूद थे । इस दौरान शिक्षाकर्मी संघठन के नेताओं ने कमेटी के मध्य प्रदेश दौरे का विरोध किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *