पत्थलगड़ी आंदोलन पर शासन सख्त…आईएएस किंडो पर पुलिस कार्रवाई…14 दिन के न्यायिक रिमांड पर जोसेफ

जशपुर… जिले में पत्थलगड़ी आंदोलन की अगुवाई कर रहे नेता जोसेफ तिग्गा और रिटायर्ड आईएएस किंडो को गिरफ्तार कर लिया गया है।दोनों नेताओं के खिलाफ पुलिस ने सख्त धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जेल भेज दिया है।

                               छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में पत्थलगड़ी पर प्रशासन ने सख्त रूक अख्तियार कर लिया है। सरकार के निर्देश पर पत्थलगड़ी की अगुवाई करने वाले नेताओं पर कार्रवाई शुरू हो गयी है। पुलिस ने पत्थलग़़ड़ी आंदोलन के नेता  रिटायर्ड आईएएस ए एस हरमन किंडो और जोसेफ तिग्गा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया  है। इस मामले में पुलिस ने सख्त धाराओं के तहत प्रकरण भी दर्ज कर लिया है।

मालूम हो कि जशुपर जिले में आसपास के गांवों में पत्थलगड़ी को लेकर विवाद चल रहा है। बीजेपी की सद्भावना यात्रा भी चल रही है। इस दौरान यहां पत्थलगड़ी तोड़ने के कारण विवाद बढ़ गया था। पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को नाराज लोगों ने बंधक भी बना लिया था। सर्व आदिवासी समाज ने पत्थलगड़ी आंदोलन का समर्थन करते हुए आंदोलन और क्षेत्र को अपना संवैधानिक अधिकार बताया था।

                   आंदोलन को पुलिस और प्रशासन ने गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई तेज कर दी है। आदिवासियों की मुहिम की अगुवाई कर रहे जोसेफ तिग्गा को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके अलावा पुलिस ने रिटायर्ड आईएएस किंडो को भी पकड़कर जेल भेज दिया है।

                 संकेत मिल रहे हैं कि पत्थरगड़ी में गैर जमानती धाराओं के तहत कार्रवाई की जा रही है। बगीचा थाने में तीन अपराध दर्ज किए गए हैं। जबकि नारायणपुर थाना क्षेत्र में एक अपराध दर्ज किया गया है। दर्ज किए गए चारो अपराध  ग़ैर ज़मानती है। नारायणपुर में 149,153 B,505(1)(c) और 120B के तहत मामला दर्ज किया गया है। जबकि बगीचा में 120B,147,149,186,332,341,353,427 के तहत अपराध पंजीबद्ध हुआ है।

                          हालांकि पुलिस इस मामले में कुछ भी कहने से बच रही है। अभी तक साफ नहीं हुआ है कि मामले में शिकायतकर्ता कौन है। कहा जा रहा है कि जल्द ही मामले में कई लोगों की गिरफ्तारी होगी।

                                         जानकारी के अनुसार गिरफ्तार किए गए दोनों नेताओं को कुनकुरी न्यायिक मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया।  कोर्ट ने दोनों नेताओं को 14 दिन की रिमांड पर जेल भेज दिया है। दोनों पर धार्मिक सद्भावना बिगाड़ने के अलावा कई संगीन जुर्म लगाए गए हैं। पुलिस ने भारी सुरक्षा के बीच मीडिया से बचाते दोनों को कोर्ट में पेश किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *