भीड़ देख उत्साहित जोगी ने CM को कहा रकम सिंह…जन्मदिन पर ठोंका चुनावी ताल..कहा..विदेश से लाउंगा जमा पैसा

रायपुर—पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने अपने 72 वें जन्मदिन पर  राजधानी रायपुर में मेगा शो का आयोजन कर चुनावी शंखनाद किया है। करीब एक लाख से अधिक भीड़ को संबोधित करते हुए प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा । जोगी ने अपने भाषण में हर उस पहलू को छूने का प्रयास किया जिससे जनता को प्रभावित किया जा सके। अपने भाषण में पूर्व मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री रमन सिंह को रकम सिंह नाम से संबोधित किया।

         जोगी ने कहा कि रमन सिंह और उसके परिवार के लोगो का विदेशों में खाता है। जोगी सरकार बनेगी तो विदेशों में जमा पैसों को छत्तीसगढ़ लाया जाएगा। जोगी ने अपने भाषण में राजनीतिक मुद्दों के साथ साथ  भावनात्मक तौर पर भी  आम लोगों के बीच अपने रिश्ते गढ़े। जोगी ने रमन सिंह को नया नाम देते हुए कहा कि वे अब रकम सिंह है। उन्होंने दोनों दलों को सांइस कालेज मैदान की सभा के लिए जनसमुदाय जुटाने की चुनौती भी दे डाली।

                              भाषण की शुरूआत में अजीत जोगी ने अपने साथ हुई दुर्घटना का जिक्र किया। न्होंने कहा कि दुर्घटना होने के बाद मुझे दिल्ली, लंदन ले जाया गया। इस दौरान मैं. 11 दिन बेहोश था। मेरा शरीर मशीन से चल रहा था। दिल, दिमाग, कलेजा मशीन से चल रहा था। मुझे बेहोशी में छह फीट ऊंचे लंबी ढाड़ी वाले  किसी व्यक्ति का दर्शन हुआ। उसने कहा मैं लेने आया हूं।  उस वक्त मुझे एक तरफ लंबी कद काठी का वह व्यक्ति नजर आ रहा था, तो दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ की मेरी जनता दिख रही थी। मैंने कहा- तुमसे ज्यादा जरूरत मेरी छत्तीसगढ़वासियों को हैं। आप लोग मुझे वापस लाए हो। यह जिंदगी आप लोगों की दी हुई है। यह जिंदगी मेरी नहीं है. यह जन्मदिन मेरा जन्मदिन भी नहीं है।

                                       जोगी ने कहा कि – मैं गरीब घर में पैदा हुआ. माता पिता ने कैसे पाला-पोसा मैं बता नहीं सकता। मैं नांगर जोता हूं. ब्यासी करा हूं. मिजाई की है. हंसिया से फसल काटा है. सिर पर बोझा ढोया है. सब काम मैंने अपने हाथों से किया है।  पढ़ने के लिए मैं पैदल जाता था. मैं इंजीनियर बन गया, वकील बन गया, प्रोफेसर बन गया, आईपीएस बन गया, आईएएस बन गया. कलेक्टरी का मेरा रिकार्ड रहा है। 13 साल कलेक्टर रहा हूं. राज्यसभा, लोकसभा, विधानसभा सब जगह पहुंचा हूं।

                     जोगी ने जनता को बताया कि छत्तीसगढ़ के सभी देवी देवता की कृपा से मैं यहां का पहला मुख्यमंत्री भी बना।  मेरा एक ही बेटा है,अमित जोगी, वह भी एमएलए बन गया। पत्नी रेणु जोगी. वह भी तीन बार की विधायक बन गई है। मेरे पास अब क्या कमी है. सरकारी घर है, सरकारी गाड़ी है. आईएएस, राज्यसभा, लोकसभा, मुख्यमंत्री सबका मुझे पैसा मिल रहा है। इन सबके बावजूद आज मैं व्हीलचेयर पर क्यों आया हूं? मेरी जगह कोई दूसरा होता, तो खटिया में तानकर सो रहा होता. मजे से पड़े रहता, लेकिन मैं यहां आपके बीच आया हूं. सिर्फ इसलिए की मेरे जीवन का एक-एक पल आपके लिए है। मेरा जीवन अब अमित जोगी, रेणु जोगी के लिए नहीं है। मैं गरीब से अमीर बना हूं. मैं चाहता हूं कि छत्तीसगढ़ का एक-एक लड़का, एक-एक लड़की अजीत जोगी बने।

                                  अजीत जोगी ने कहा कि मैंने नई पार्टी बनाई तो यह सवाल उठा कि क्यों बनाई है? यहां दो पार्टी राज करती रही हैं. एक हाथ छाप जिसे कांग्रेस कहते हैं, जिसने 55 साल राज किया है औऱ दूसरी बीजेपी, जो बीते 15 सालों से राज कर रही है।  दोनों पार्टी का फैसला यहां नहीं होता। डाॅ.रमन सिंह ने पिछले चुनाव में कहा था कि बीजेपी सरकार आयी  तो 2400 रूपए समर्थन मूल्य और 300 रूपए बोनस देंगे। लेकिन जब देने की पारी आई, तब वह दिल्ली चले गए, क्योंकि वहां दूसरा झूठा आदमी बैठा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *