प्रधानमंत्री की योजनाओं के क्रियान्वयन में छत्तीसगढ़ अव्वल

रायपुर।मुख्य  सचिव अजय सिंह की अध्यक्षता में मंत्रालय में ग्राम स्वराज अभियान के दौरान विभिन्न योजनाओें का ग्राम पंचायत स्तर पर क्रियान्वयन की समीक्षा की गई। ग्राम स्वराज अभियान के दौरान प्रधानमंत्री की सात महत्वाकांक्षी योजनाओं का क्रियान्वयन राज्य के 14 जिलों के 346 ग्राम पंचायतों में किया जा रहा है। अब तक की स्थिति में प्रधानमंत्री की विभिन्न योजनाओं को आम जन तक पहुंचाने में छत्तीसगढ़ राज्य अव्वल रहा है। विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन की स्थिति में पूरे भारत भर में राज्य एक से लेकर चौथे स्थान में है।

बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर की 127वीं जयन्ती के अवसर पर सामाजिक न्याय दिवस 14 अप्रेल से 5 मई 2018 तक चलने वाले ग्राम स्वराज अभियान में राज्य के 14 जिलों मंे 346 ग्राम पंचायतों में प्रधानमंत्री की सात योजनाओं का लाभ शत्-प्रतिशत् हितग्राहियों को दिया जाना है। इन योजनाओं में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, सौभाग्य-प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना, उजाला योजना (एलईडी बल्ब वितरण), प्रधानमंत्री जन-धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा योजना और 02 वर्ष तक के बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण के लिए मिशन इन्द्रधनुष कार्यक्रम शामिल है।

राज्य में अब तक स्वराज अभियान के तहत् हुए कार्यक्रमों की 61 हजार 806 छायाचित्र केन्द्र सरकार के वेबसाईट पर डाली गई है। जिसमें से 54 हजार 813 छायाचित्रों की स्वीकृति के साथ राज्य पहले स्थान पर है। प्रधानमंत्री जन-धन योजना के क्रियान्वयन में देश भर में छ0ग0 राज्य पहले स्थान पर है। अभियान के दौरान चयनित 346 ग्राम पंचायतों में 13 हजार 898 जन-धन खाते खोले जाने का लक्ष्य रखा गया है। अब तक की स्थिति में दो हजार 579 खाते खाले जा चुके है।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के क्रियान्वयन में प्रदेश पहले स्थान पर है, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना में 36 हजार 18 हितग्राहियों को बीमित किये जाने का लक्ष्य रखा गया है। अभी तक 3 हजार 665 हिग्राहियों का बीमा योजना के तहत् कर ली गयी है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना में दो हजार 579 हितग्राहियों को लाभान्वित करते हुए राज्य दूसरे स्थान पर है। प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना-सौभाग्य के क्रियान्वयन में राज्य तीसरे स्थान पर है, चिन्हांकित 346 गांव के पांच हजार 563 में से दो हजार 558 विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराये गये है।

उजाला योजना के तहत् चयनित 346 गांव में से 62 गांव मंे शत्-प्रतिशत् एलईडी बल्ब का वितरण कर दिया गया है। मिशन इन्द्र धनुष में बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं के टीकाकरण में प्रदेश चौथे स्थान पर है। अभियान के दौरान कुल एक हजार 148 बच्चों और माताओं का टीकाकरण किया जाना है।

प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत् चयनित गांव के 48 हजार 32 हितग्राहियों में से 11 सौ 73 हितग्राहियों को एल.पी.जी. गैस कनेक्शन उपलब्ध करा दिया गया है। योजना के क्रियान्वयन में राज्य को 9वां स्थान प्राप्त हुआ है।

ग्राम स्वराज अभियान के अगले चरण में 24 अप्रेल को पंचायत राज दिवस मनाया जायेगा। शनिवार 28 अप्रेल को ग्राम शक्ति अभियान, सोमवार 30 अप्रेल को आयुष्मान भारत अभियान, बुधवार 2 मई को किसान कल्याण कार्य शाला और शनिवार 5 मई को आजीविका एवं कौशल विकास मेले का आयोजन चयनित ग्रामों में किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *