जोगी ने कहा बुराई की जड़ हैं रमन सिंह..नहीं दूंगा गौरीशंकर को वाक ओव्हर…मैं बनूंगा प्रदेश का मुख्यमंत्री

बिलासपुर– पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा कि जनता कांग्रेस की सरकार बनेगी। सरकार का मुख्यमंत्री भी मैं बनुंगा। अभी तक लिए गए निर्णय के अनुसार घर के दो सदस्य ही चुनाव लड़ेंगे और दो लोग प्रचार प्रसार में रहेंगे। पत्रकारों को अजीत जोगी ने बताया कि यह सच है कि मैने गौरीशंकर अग्रवाल के खिलाफ चुनाव लड़ने का एलान किया था। लेकिन अब फैसला बदल दिया है। इसका मतलब यह नहीं कि मैने गौरीशंकर अग्रवाल को वाक ओव्हर दे दिया है। गौरीशंकर अग्रवाल बाहरी है। इस बार जनता कांग्रेस का स्थानीय प्रत्याशी चुनाव में उतरेगा…हराकर रिकार्ड भी बनाएगे। पत्रकार वार्ता के दौरान जोगी ने मुख्यमंत्री समेत राष्ट्रीय अनुसूचित आयोग अध्यक्ष नन्दकुमार साय पर भी निशाना साधा। साथ ही मोदी के शौचालय अभियान की तारीफ भी की।

                                 पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने पार्टी की आईटी सेल प्रदेश अध्यक्ष जीतू ठाकुर की मौजूदगी में सोशल मीडिया मितान वेवसाइट लांच किया। पत्रकारों को संबोधित कर कहा कि तेलंगना,ओडिसा और छत्तीसगढ़ के जोगी कांग्रेस कार्यकर्ता पोलावरम बांद का विरोध करते हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने पोलावरम को केन्द्रीय ईकाई के रूप में जिम्मेदारी ली है। कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी पोलावरम बांध को जल्द से जल्द पूरा कराने को कहा है। इससे जाहिर होता है कि दोनो राष्ट्रीय पार्टियां प्रदेश के हितों को नजर अंदाज कर रही है। पोलावरम बांध बनने से अतिसंरक्षित दोरला और कोया जनजाति को खतरा है। केन्द्र ने एनजीटी का आदेश भी मानने से इंकार कर दिया है। अब जनता कांग्रेस पार्टी बांध के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी।

                                       सवाल के जवाब में अजीत जोगी ने कहा कि यह सच है कि मैने गौरीशंकर अग्रवाल के खिलाफ चुनाव लड़ने का एलान किया था। लेकिन अब रमन सिह के खिलाफ मैदान में रहूंगा। काफी सोच विचार के बाद पाया कि सारी बुराई की जड़ रमन सिंह हैं। इसलिए राजनांदगांव से चुनाव लडूंगा। जोगी ने बताया कि जब से मैने राजनांदगांव से चुनाव लड़ने का एलान किया। मुख्यमंत्री महीने में चार बार राजनांदगांव का दौरा कर रहे है। जोगी ने यह भी बताया कि गौरीशंकर को वाक ओव्हर नहीं दूगा। कशडोल विधानसभा को अब तक सभी बाहरी लोगों ने जीता है। रूपए देकर वोट खरीदा है। इस बार जनता कांग्रेस पार्टी किसी स्थानीय और दमदार प्रत्याशी को उतारेगी। हमारा प्रत्य़ाशी रूपए की ताकत को हराएगा।

                              सीएम यदि राजनांदगाव से बाहर चुनाव लड़ते हैं तो क्या वहा भी चुनाव में कूंंदेगे…जोगी ने कहा कि परिकल्पना वाले सवालों का जवाब नहीं देना चाहता है। लेकिन जैसी भी स्थित होगी..उसके अनुसार ही कदम उठाया जाएगा।

                 मिशन 72 और मिशन 64…किसके दावे में दम है…सवाल का जवाब देते हुए कहा कि मिशन 72 का अर्थ केवल सीट संख्या से नहीं है। बहत्तर में सात और 2 अंक है। इसका अर्थ साथ दो से भी होता है। सीट 72 आएगी इसमें कोई शक भी नहीं है। मिशन 64 वालों का जमाना रवाना हो गया है। किसी के दावे में कोई दम नहीं है।

आपके परिवार से कौन कौन चुनाव लड़ेगा जवाब में जोगी ने कहा कि अभी तक दो लोगों को चुनाव में उतारने का फैसला लिया गया है। आगे क्या कुछ होगा देखा जाएगा। 29 अप्रैल को रेणु जोगी जनता कांग्रेस में प्रवेश करेंगी के सवाल पर जोगी ने कहा कि देखते हैं क्या होता है।

सवाल का जवाब देते हुए कहा कि सर्वे के दावे में कोई सच्चाई नहीं है। मैने भी सुना और पढ़ा है कि जोगी कांग्रेस को पांच सीट दिया जा रहा है। सर्वे की सच्चाई को अच्छी तरह से जानता हूं। सर्वे को तीन घंटे तक घसीटा गया है। सर्ने के अन्दर का सच जानता हूं।

जोगी ने बताया कि हमने आंचलिक पार्टी प्रदेश हित को लेकर बनाया है। राष्ट्रीय पार्टी में शामिल होने का सवाल ही नहीं है। हम प्रचंड बहुमत से सरकार बनाने जा रहे हैं। अजीत जोगी के नाम पर चुनाव लड़ा जाएगा। इसलिए मुख्यमंत्री भी अजीत जोगी ही बनेगें।

जोगी ने जगदलपुर में  आदिवासी महिला को चप्पाल पहनाने की तारीफ करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री ने सांकेतिक रूप से अच्छा काम किया है। शौचालय के सवाल पर जोगी ने बताया कि प्रधानमंत्री का अच्छा अभियान है। अभियान में विसंगतियां हैं…लेकिन इसमें संदेह नहीं कि स्वच्छता अभियान की तारपी करता हूं।

देश को भगवा रंग दिया जा रहा है….क्या इसका आप विरोद करते हैं..जोगी ने बताया कि रंग विचारों का प्रतीक होता है। किसी विचारधारा को थोपना उचित नहीं है। अंबेडकर कांग्रेस के नहीं बल्कि सभी के हैं। जोगी ने यह भी बताया कि देश में पुलिस की हालत खराब है। आज भी भारत की पुलिस डंडा लेकर चलती है। जबकि दुनिया की पुलिस अत्याधुनिक हथियार से लैश हो चुकी है।

जबसे केन्द्र में भाजपा सरकार आयी है कानून  व्यवस्था चरमरा गयी है। खासकर उत्तर भारत में ब्लात्कार जैसी घटनाओं ने देश को झकझोर कर रख दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *