कठुआ-उन्नाव गैंगरेप के खिलाफ राहुल गांधी का कैंडल मार्च, इंडिया गेट पर जमा हुए कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता

नईदिल्ली-दलितों पर हुए अत्याचार के मामले को लेकर अपनी पार्टी के साथ एक दिन के सांकेतिक उपवास पर बैठने के बाद अब राहुल गांधी कैंडल मार्च निकाल रहे हैं।राहुल की यह यात्रा कांग्रेस मुख्यालय से इंडिया गेट तक निकाली जाएगी।उत्‍तर प्रदेश के उन्‍नाव और जम्‍मू-कश्‍मीर के कठुआ में हुई गैंगरेप की वारदातों के विरोध में कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने कैंडल मार्च निकालना शुरू कर दिया है। प्रियंका गांधी भी मार्च में शामिल हुई हैं। हालांकि अभी तक राहुल गांधी मार्च में नहीं दिख रहे हैं लेकिन उनकी पार्टी के कई बड़े नेता भी कैंडल मार्च में शामिल हैं।उत्तर प्रदेश के उन्नाव और जम्मू-कश्मीर के कठुआ में छोटी बच्ची के साथ हुए गैंगरेप के खिलाफ राहुल गांधी आज रात दिल्ली के इंडिया गेट से कैंडल मार्च निकालेंगे, जिसमें पार्टी के अन्य बड़े नेता शामिल होंगराहुल ने ट्वीट कर लोगों से उनके साथ कैंडल मार्च में शामिल होने की अपील की।कैंडल मार्च से पहले कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, ‘यह राजनीति नहीं, बल्कि देश की बेटियों का दर्द है।’

इससे पहले कठुआ गैंगरेप के आरोपियों के समर्थन में हो रहे प्रदर्शनों पर हैरानी जताते हुए राहुल ने पूछा, ‘कोई व्यक्ति दोषियों को बचाने की कैसे मांग कर सकता है?’राहुल ने ट्वीट कर कहा, ‘कोई व्यक्ति ऐसे गुनाहगारों को कैसे बचा सकता है? कठुआ में आसिफा के साथ जो हुआ, वह इंसानियत के खिलाफ अपराध है। दोषियों को सजा दिए बिने नहीं छोड़ा जा सकता।’उन्होंने कहा, ‘हम लोग क्या हो गए हैं। एक बेकसूर बच्ची के साथ हुई अकल्पनीय नृशंसता में हम राजनीतिक दखलअंदाजी की इजाजत देंगे।’गौरतलब है कि जम्मू कश्मीर के कठुआ में रासना गांव स्थित अपने घर से बकरवाल मुस्लिम समुदाय की बच्ची आसिफा दस जनवरी को लापता हो गई थी।

एक हफ्ते बाद उस लड़की का शव मिला और जांच में उसके साथ सामूहिक बलात्कार होने की बात सामने आने के बाद जम्मू-कश्मीर में जबरदस्त तनाव है।इस मामले में पुलिस अधिकारी समेत अभी तक कुल आठ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जम्मू के बार एसोसिएशन ने जहां इस मामले में आरोपियों के खिलाफ की जारी कार्रवाई का विरोध किया है वहीं घाटी में न्याय की मांग को लेकर प्रदर्शन हुए हैं।इससे पहले राहुल ने उत्तर प्रदेेश के उन्नाव में हुए गैंगरेप को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा था।राहुल ने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही बीजेपी शासन में महिलाओं पर हो रहे अत्याचार, कानून तंत्र की विफलता और बढ़ती अराजकता के खिलाफ उपवास पर बैठेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *