दो अलग अलग मामले में पकड़ाए मोबाइल चोर… सूनेपन का उठाया फायदा…मोबाइल और एटीएम कार्ड बरामद

बिलासपुर—बिलासपुर क्राइम ब्रांच पुलिस ने दो अलग अलग शिकायतों पर तीन मोबाइल चोरों को धर दबोचा है। दो आरोपी महाराष्ट्र के रहने वाले। शहर में रहकर छोटे मोटे काम के अलावा चोरी की घटना को अंजाम देते हैं। पकड़ में आए तीनों आरोपियों ने चोरी की वारदात को कबूल कर लिया है। आरोपियों के पास से पेन कार्ड,आधार कार्ड,पर्स के अलावा मोबाइल को बरामद किया है।

                          एडिश्नल एसपी नीरज चन्द्राकर ने पत्रकारों को बताया कि दो अलग अलग मोबाइल चोरी के आरोप में चार लोगों को पकड़ा गया है। पहला मामला कोतवाली थाना पुराना बस स्टैण्ड स्थित कश्यप कालोनी की है। विमल पटेल पिता मौजी पटेल ने 4 अप्रैल को थाना पहुंंचकर बताया कि दोस्त आशीष पटेल और डोमेश पटेल के साथ गीतांजली नगर कश्यप कालोनी में रह कर पढ़ाई करता है। रात्रि को तीनों दोस्त मोबाइल को चार्जिंग में लगाकर सो गए। सुबह पांच बचे उठने के बाद जानकारी मिली कि तीनों की अलग अलग कीमती मोबाइल किसी ने पार कर दिया है। इसके अलावा अज्ञात चोर ने डोमेश पटेल का पर्स के साथ एटीएम कार्ड,पेन और आधार कार्ड पर भी हाथ साफ किया है।

              चन्द्राकर ने बताया कि कुछ इसी तरह की एक शिकायत कोटा थाना क्षेत्र की है। विनिता तिवारी ने बताया कि 4 अप्रैल 2018 को कोटा क्षेत्र के शिवतराई मंदिर में साम 8 बजे पूजा पाठ कर रही थी। इसी बीच किसी ने उनकी महंगी मोबाइल को पार कर दिया। विनिता तिवारी ने पुलिस को बताया कि वह सकरी थाना क्षेत्र में राम लाइफ सिटी में रहती है।

                                     दोनों ही मामलों को पुलिस कप्तान ने गंभीरता से लिया। सिटी कोतवाली क्षेत्र में नीरज चन्द्राकर और कोटा क्षेत्र में हुई मोबाइल चोरी के आरोपियों को पकड़ने की जिम्मेदारी एडिश्नल एसपी अर्चना झा को दिया।

                     इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि कश्यप कालोनी में मोबाइल चोरी के दो आरोपी रविदास चौक में पल्सर से घूम रहे है। दोनों को पकडकर पूछताछ की गयी। दोनों ने अपना नाम आकाश मोरे और गौरव पवार बताया। आकाश मोरे पिता बिलास मोरे उम्र 19 साल अमर नगर महाराष्ट्र का रहने वाला है। जबकि गौरव पवार पिता राजेन्द्र पवार उम्र 21 साल संगरूर महाराष्ट्र का निवासी है।

     नीरज के अनुसार दोनों आरोपियों ने बताया कि 3 अप्रैल को सारथी की मोटर सायकल से गीताजली नगर गली नम्बर 4 गए। मौके से मोबाइल समेत अन्य सामान को पार कर दिया। दोनों आरोपियों ने बताया कि चोरी के सामान को करबला स्थित रविदास चौक के पास मुर्गी दुकान के पीछे कचरा में छिपाया है। आरोपियों के निशानदेही पर चोरी के सामान को जब्त कर लिया गया है। आरोपियों को ज्यूडिशियल रिमांड पर भेज दिया गया है।

                 इसी तरह शिवतराई मंदिर से गायब मोबाइल के आरोपी को अर्चना झा और साइबर एक्सपर् के मार्गदर्शन में पकड लिया गया है। आरोपी का नाम उत्तम श्रीवास पिता फत्तेलाल श्रीवास उम्र 41 साल है। आरोपी सकरी थाना क्षेत्र के देवकला का रहने वाला है। कोटा पुलिस ने मोबाइल को भी बरामद कर लिया है। आरोपी को न्यायिक रिमाण्ड पर जेल भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *