कोर्ट तक नहीं पहुंचे नटवर लाल…दोनों आरोपियों की तबीयत खराब…जेल में हो रहा ईलाज

बिलासपुर— कार में डिस्काउंट के नाम पर लोगों से करोड़ों रुपये की ठगी कर फरार रवि भवन शॉपिंग काम्प्लेक्स मालिक विमल जैन और पुत्र वैभव जैन के बीमार होने की खबर आ रही है। बिलासपुर सेंट्रल जेल से मिली जानकारी के अनुसार पिता पुत्र दोनों का इलाज जेल चिकित्सालय में ही चल रहा है। पिता पुत्र को पांच दिन पहले  बिलासपुर और रायपुर पुलिस के संयुक्त प्रयास से रायपुर से गिरफ्तार  किया गया था ।

                                पुलिस जानकारी के अनुसार पिता विमल जैन और पुत्र वैभव जैन बिलासपुर में लोगों से करोड़ों रुपये की धोखाधड़ी कर कर लम्बे समय से फरार थे। मुखबिर की सूचना पर बिलासपुर पुलिस रायपुर पुलिस के साथ रायपुर स्थित चौबे कॉलोनी घर में दबिश दी। दोनों को गिरफ्तार कर पांच दिन पहले बिलासपुर लाया गया था।बिलासपुर पुलिस ने कोर्ट में पेश करने के बाद दोनों आरोपियों को सेन्ट्रल जेल में रखा है।

                       आरोपी पिता-पुत्र बिलासपुर में कार खरीदी के लिए एडवांस पैसा जमा करने पर डिस्काउंट देने के नाम करोड़ों रुपये इकठ्ठा किए। जब लोगों ने कार की डिमांड की तो पिता पुत्र फरार हो गए। जिनकी तलाश पुलिस को लम्बे समय से थी।

                             आरोपी पिता-पुत्र पर आरोप है कि तखतपुर निवासी चंद्रप्रकाश रात्रे और बिलासपुर महाराणा प्रताप चौक निवासी रामस्वरूप सिंह राजपूत से 20 लाख रुपये ठगी की है । एक अन्य मामले में टोयटा कंपनी के वर्कशॉप की फ्रेंचाइजी दिलाने के नाम पर बिलासपुर विद्या नगर निवासी दिग्विजय सिंह बाली से एक टोयटा कार समेत 70 लाख रुपयों का चूना लगाया है।

                          मामले की शिकायत पीड़ितों ने हिर्री थाने में दर्ज की थी । शिकायत के बाद बाप-बेटे फरार थे। मुखबिर की सूचना पर दोनों को रायपुर में पकड़ा गया। बताते चलें कि बाप बेटों के खिलाफ रायपुर में भी कई मामले दर्ज हैं। दोनों आरोपियों को आज न्यायालय में पेश होना था। दो  दिन से रायपुर पुलिस बिलासपुर में ट्रांजिट रिमांड की कोशिश कर रही है। लेकिन दोनों की तबीयत खराब होने के कारण न्यायालय में पेश नहीं किया जा सका।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *