एसपी ने किया ईनाम दस हजार का एलान….रैपिस्ट की पुलिस को तलाश…पता बताने वाले को रखा जाएगा गुप्त.

बिलासपुर—रेलवे में नौकरी लगाने का झांस देकर सालों तक दैहिक शोषण के आरोपी को पकड़ने पुलिस ने ईनाम दस हजार का एलान किया है।आरोपी ने नौकरी के नाम पर महिला को लाखों रूपए का भी चूना लगाया है। शिकायत के बाद पुलिस आरोपी के ठिकाने पर लगातार धावा बोल रही है। हर बार आरोपी बचने में कामयाब हो रहा है। फिर भी पुलिस का दावा है कि आरोपी को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा।

                                      पीडित युवती के अनुसार कोटा स्थित गुलिया परिसर निवासी अमित कन्नौज पिता रामकुमार कन्नौज से उसकी जान पहचान हुई। जान पहचान के बाद अमित ने कहा कि उसकी रेलवे में पहचान है। कुछ रूपए खर्च करने के बाद रेलवे में नौकरी लगवा सकता हूं। झांसे में आकर करीब साढ़े छः लाख रूपए अमित कन्नौज को दी। रूपए मिलने के बाद अमित कन्नौज ने जल्द ही नौकरी लगाने का आश्वासन दिया।

                     पुलिस जानकारी के अनुसार इस बीच युवती और आरोपी अमित के बीच शारीरिक सम्बध भी बने । कन्नौजे ने नौकरी और शादी का झांसा देकर 2008 से 2011 के बीच कई बार युवती के साथ सम्बन्ध बनाया। समय के साथ युवती ने शादी करने और नौकरी के लिए  दबाव बनाया। लेकिन अमित ने ना तो शादी की और ना ही रूपए लौटाने को तैयार हुआ।

                                    इस बीच युवती को जानकारी मिली कि अमित शादीशुदा है। पत्नी का नाम आकांक्षा कन्नौज है। जानकारी मिलने के बाद युवती ने आरोपी से रकम वापस करने दबाव बनाया। काफी दबाव के बाद आरोपी ने युवती को कुछ रकम तो वापस किए…लेकिन बाकी रकम लौटाने और शादी करने से इंकार कर दिया।

                         युवती ने मामले की शिकायत पुलिस कप्तान आरिफ एच.शेख से की। पुलिस कप्तान के निर्देश पर युवती की शिकायत को सिटी कोतवाली में आरोपी अमित के खिलाफ धारा 376, 420 व 34 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया। पुलिस ने कई बार आरोपी के कोटा, उसलापुर स्थित ठिकाने पर छापामार कार्रवाई की। लेकिन आरोपी हर बार फरार होने में कामयाब हुआ है।

                                         शातिर को पकड़ने के लिए पुलिस कप्तान आरिफ एच.शेख ने आरोपी की सूचना देने या गिरफ्तार कराने वाले को 10 हजार रुपए बतौर ईनाम का एलान किया है। पुलिस कप्तान ने खबर देने वाले के नाम को गुप्त रखने का भी आश्वासन दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *