अगर RBI ने किया होता समय पर ऑडिट तो नहीं होता 13000 करोड़ का PNB फर्ज़ीवाड़ा:CVC

नईदिल्ली।केन्द्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) ने पीएनबी फर्ज़ीवाड़ा मामले को लेकर आरबीआई को ज़िम्मेदार ठहराया है।इस बारे में सीवीसी प्रमुख केवी चौधरी ने जानकारी देते हुए कहा, ‘ऐसा लगता है कि जिस दौरान पीएनबी फर्ज़ीवाड़ा हुआ था उस वक़्त सेंट्रल बैंक (आरबीआई) ने कोई ऑडिट नहीं कराई थी।’

सीवीसी प्रमुख ने मजबूत ऑडिटिंग सिस्टम पर ज़ोर देते हुए कहा, ‘आरबीआई ने अपना काम (ऑडिट) ठीक से नहीं किया।’

बता दें कि सीवीसी पंजाब नेशनल बैंक में नीरव मोदी द्वारा किए गए 13000 करोड़ रुपये के फर्ज़ीवाड़ा मामले में सीबीआई जांच की निगरानी कर रही है।

आगे उन्होंने कहा, ‘आरबीआई के पास सभी बैंको के नियमन की ज़िम्मेदारी होती है लेकिन अगर उनकी ईमानदारी में कहीं कमी आती है तो उसकी जांच सीवीसी द्वारा की जाती है।’

चौधरी ने कहा, ‘आरबीआई के मुताबिक़ उन्होंने तब तक समय-समय पर ऑडिट करने के बजाए ‘रिस्क आधारित’ ऑडिट करने लगे थे यानि की वित्तीय जोखिम की स्थिति में ही ऑडिट कराई जाती थी।’

उन्होंने आगे कहा, ‘ज़ोखिम निर्धारित करने के लिए आरबीआई के पास कुछ पैरामीटर होने चाहिए थे और उस आधार पर ऑडिट कराई जानी चाहिए। लेकिन जिस वक़्त पीएनबी में फर्ज़ीवाड़ा की घटना हुई थी उस वक़्त आरबीआई ने कोई ऑडिट नहीं कराई।’

Tags:, ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *