पुलिस के हत्थे चढ़े नकली सोने के सौदागर,नकली सोने के बिस्किट को असली बताकर ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

बिलासपुर।बिलासपुर पुलिस ने   नकली सोने की बिस्किट को असली  बताकर धोखाधड़ी करने वाले  नकली सोने के सौदागरों के   एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। इस मामले में दो आरोपी पकड़ लिए गए हैं। जिनके पास से एक लाख रुपए  से अधिक कीमती सोने-चांदी के जेवर, धातु गलाने का पात्र और नकली सोने के पांच बिस्किट बरामद किए हैं ।पुलिस ने जानकारी दी है की 13 मार्च को मोहम्मद नौशाद नामक व्यक्ति ने तखतपुर थाने में इसकी रिपोर्ट दर्ज कराई थी । जिसमें बताया गया था कि  कोटा के कारमी कंपनी में काम करने वाले उनके परिचित संतोष सिंह को वही के एक  कर्मचारी जितेन्द्र कुमार पात्रे  ने बताया था  कि तखतपुर थाना के अंतर्गत विचार पुर गांव  का छोटेलाल कोसले नामक व्यक्ति पारिवारिक परेशानी की वजह से घर का पैतृक सोना बेचना चाहता है। छोटेलाल को पैसे की सख्त जरुरत है। इसलिए वह एकदम सस्ते में सोना बेच रहा है। सस्ता सोना मिलने के लालच में संतोष ने  जितेंद्र के साथ जाकर 10 लाख  में सोना खरीदने का सौदा किया। 12 मार्च को खमरिया रोड में छोटेलाल से मिलकर उसे साढ़े सात लाख रुपए दिए और 2 नग असली जैसा दिखने वाले सोने के बिस्किट  उससे ले लिए।  साथ ही तय हुआ कि बाकी की रकम सोने के बिस्किट की टेस्टिंग कराने के बाद दी जाएगी ।

संतोष सोने की बिस्किट लेकर बिलासपुर आया और इसकी टेस्टिंग कराया  तो उसे ठगे जाने का एहसास हुआ ।13 मार्च को अपने साथियों के साथ छोटे लाल कोसले के गांव जाकर उससे धोखा देने की बात कही। जिस पर छोटे लाल ने ना-नुकुर करते हुए उसे तीन लाख अस्सी हजार रुपए वापस किए और  बाकी की रकम देने से इनकार कर दिया ।  जिस पर उसने तखतपुर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई ।पुलिस ने धारा 420 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया और छानबीन शुरु की।

पुलिस की टीम ने छोटेलाल के घर दबिश दी और उसके कब्जे से  1 लाख 10 हजार रुपए जप्त किए . साथ ही ठगी की रकम से खरीदा हुआ लगभग50 हजार रुपए  कीमत के सोना –  चांदी के जेवरात और ठगी की रकम से कई बैंकों में जमा की गई रकम की रसीद भी हासिल कर ली। पूछताछ पर छोटेलाल ने  पुलिस को बताया कि वह मुंगेली जिले के चिल्फी चौकी अंतर्गत लालसेकापा निवासी पोसागी लाल उर्फ संतोष के साथ मिलकर नकली सोने की बिस्किट के नाम पर रकम ठगने का काम करता है। पुलिस ने लालसेकापा जाकर पोसागी लाल को भी हिरासत में ले लिया और उससे भी पूछताछ की गई। तब उसके कब्जे से 3 नग सोने जैसे दिखने वाले चमकीली धातु के बिस्किट जप्त किए। कड़ाई से पूछताछ करने पर पोसागीलाल ने बताया कि वह कोरबा जिले के पसान थाना अंतर्गत सीपतपारा पिपरिया निवासी पन्नालाल से  नकली सोने के बिस्किट लेकर ठगी का काम करता है। पुलिस ने पन्नालाल की तलाश शुरू की। लेकिन वह घर से फरार हो गया । लेकिन पुलिस ने उसके घर से धातु गलाने वाला पात्र बरामद  कर लिया। फिलहाल तखतपुर पुलिस की तत्परता से नकली सोने के सौदागर वारदात के सिर्फ दो दिन के भीतर ही  पकड़ लिए  गए हैं।  दो आरोपियों को आईपीसी की धारा 420 के तहत गिरफ्तार किया गया है और तीसरे की तलाश की जा रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *