शिक्षा कर्मियों के संविलयन का मुद्दा उठा MP विधानसभा में ….सरकार ने कहा – हो रहा है प्रस्ताव तैयार..

भोपाल । मध्यप्रदेश में शिक्षाकर्मियों के शिक्षा विभाग में संविलियन की घोषणा को लेकर अभी भी चर्चा चल रही है। यह मामला सोमवार को विधानसभा में उठाया गया। जिस पर सरकार की ओर से  लिखित जवाब दिया गया कि संविलियन की कार्यवाही अभी जारी है।

मध्यप्रदेश विधानसभा के सत्र के दौरान विधायक मुरलीधर पाटीदार ने  शिक्षाकर्मियों के संविलियन का प्रश्न उठाया ।  उन्होंने पूछा था कि क्या स्कूल शिक्षा मंत्री यह बताने की कृपा करेंगे कि मुख्यमंत्री ने  अध्यापक संवर्ग का शिक्षा वर्ग शिक्षा विभाग में संविलियन की घोषणा की है। जिसके क्रम में कितने अध्यापकों को लाभ मिलेगा । उन्होंने यह भी पूछा कि  आगर –  मालवा जिले की संख्या बताएं ।साथ ही यह भी पूछा कि क्या सहायक अध्यापक , अध्यापक एवं वरिष्ठ अध्यापक को वर्ष 1994 के डाईंग कैडर सहायक शिक्षक, शिक्षक एवं व्याख्याता को पुनर्जीवित कर समान सेवा शर्त के अनुसार शिक्षा विभाग में संविलियन होगा अथवा नए पद सृजित किए जाएंगे  । उन्होंने यह भी पूछा की मुख्यमंत्री की घोषणा के पालन में कार्यवाही किस स्तर पर प्रचलित है….। क्या नियम एवं मापदंड तय किए गए हैं या किए जाएंगे।

विधायक मुरलीधर पाटीदार के इस प्रश्न के जवाब में स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह ने लिखित जानकारी दी कि अध्यापक संवर्ग की सेवाओं को शिक्षा विभाग एवं जनजाति कार्य विभाग के अधीनस्थ करने के संबंध में समुचित प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है। प्रस्ताव पर निर्णय होने के बाद पश्चात अध्यापकों को नियमानुसार लाभ होगा ।जिला आगर मालवा अंतर्गत वरिष्ठ अध्यापक 84 , अध्यापक 615 तथा सहायक अध्यापक 1544 कार्यरत हैं ।जिन्हें नियमानुसार लाभ दिया जा सकेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *