हर्षिता ने बताया प्रदेश के विकास में महिलाओं की भूमिका अहम…दौड़ को दिखाई हरी झण्डी..आदित्य ने कहा देवता भी करते हैं सम्मान

बिलासपुर— देश के विकास में महिलाओं की अहम् भागीदारी है। छत्तीसगढ़ के संदर्भ में बात करें तो प्रदेश में तीजन बाई, ममता चंद्राकर, सबा अंजुम जैसी सैकड़ो महिलाएं ने प्रदेश का नाम देश विदेश में ऊचा किया है। जाहिर सी बात है कि छत्तीसगढ में महिलाएं ना केवल सशक्त हैं बल्कि विकास के रास्ते में पुरूषों के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चल रही हैं। यह बातें प्रदेश महिला आयोग अध्यक्ष हर्षिता पांडेय ने जज्बा वेलफेयर सोसाइटी और टीम फाउंडेशन के सद्भावना दौड़ कार्यक्रम के दौरान कहीं। कार्यक्रम का आयोजन अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर किया गया।

              जज्बा वेलफेयर सोसाइटी और टीम फाउंडेशन के संयुक्त प्रयास से अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सीएमडी चौक से वी आर प्लाजा से आईएमए भवन तक सद्भावना दौड़ का आयोजन किया गया। एक किलोमीटर की सद्भभावना दौड़ कार्यक्रम में ढाई सौ से अधिक सभी वर्ग और आयु की महिलाओं ने हिस्सा लिया। आयोजन के मुख्य अतिथि हर्षिता पाण्डेय ने उपस्थित महिला प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ में महिलाएं ना केवल सशक्त हैं बल्कि विकास के रास्ते में पुरूषों के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चल रही हैं। प्रदेश में तीजन बाई, ममता चंद्राकर, सबा अंजुम जैसी सैकड़ो महिलाएं ने प्रदेश का नाम देश विदेश में ऊचा किया है। महिला पुलिस अधिकारियों ने ऐसे साहसी काम किये हैं जिनकी कल्पना करना भी मुश्किल है।

                                    कार्यक्रम को अतिथि आदित्य अग्रवाल ने भी संबोधित किया। उन्होने अपने भाषण में भारतीय संस्कृति और नारी शक्ति पर प्रमुखता के साथ प्रकाश डाला। आदित्य ने संस्कृत श्लोंक दुहराते हुए कहा कि जहां भी नारी का सम्मान होता है,देवता भी वहीं निवास करते हैं। उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस  पर देश भर की महिलाओं को बधाई दी।

                      कार्यक्रम की अतिथि एडिश्नल एसपी झा ने कहा कि कि हमारे देश में सदियों से महिलाओं को सर्वोपरि स्थान पर रखा गया गया। आज हमारे देश की महिलाएं कमोबेश सभी क्षेत्रों में पुरूषों के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चल रही हैं।  देश की उन्नति और विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। अर्चना झा ने अगर महिलाएं ठान लें तो ऐसा कोई काम नहीं है जिसे वह अंजाम तक ना पहुंंचा सकें। इतिहास गवाह है कि जब भी महिलाओं ने कुछ करने को ठाना है तो बाधाओं को भी रास्ता छोड़ना पड़ा है।

              कार्यक्रम को टीम फांऊडेशन के अध्यक्ष कविता पुजारा और सचिव ज्योति जलान ने भी संबोधित किया। आभार प्रदर्शन जज्बा वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष दीपक अग्रवाल ने किया। अतिथियों ने सद्भावना दौड़ में शामिल विजयी प्रतिभागियों को सम्मानित किया। आयोजन में बिलासपुर महापौर किशोर राय एडिशनल एसपी ट्रैफिक रोहित बघेल, जैकी गुप्ता, नीरज राम, राजेश मिश्रा, प्रिंस आनंद, गौरी गुप्ता, नीलम शर्मा, अपूर्व पाटिल, दीपक रजक, तुषार यादव समेत बड़ी संख्या में स्कूली छात्र – छात्राएं और शहर की महिलाओं ने हिस्सा लिया।

                       इसके पहले सद्भावना दौड़ को राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष हर्षिता पाण्डेय,मेयर किशोर राय,एडिश्नल एसपी अर्चना झा,आदित्य अग्रवाल ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना और स्वागत किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *