दिग्गज कांंग्रेसी करेंगे दिग्गी का स्वागत…चरणदास महंत होंगे यात्रा में शामिल..भूपेश और टीएस भी होंंगे मौजूद

बिलासपुर–दिग्विजय सिंह की नर्मदा परिक्रमा यात्रा का छत्तीसगढ़ में प्रवेश करते ही स्वागत किया जाएगा। यात्रा में पीसीसी चीप भूपेष बघेल, विधानभा नेता प्रतिपक्ष टी.एस.सिंहदेव समेत बिलासपुर से सैक़ड़ों कांंग्रेस नेता यात्रा में शिरकत नर्मदा परिक्रमा में शामिल होंगे। यह जानकारी कांग्रेस के संभागीय प्रवक्ता अभयनारायण राय ने दी है। अभय ने बताया कि दिग्विजय सिंह 9 मार्च की रात्रि और 10 मार्च को अमरकंटक में रहंंगे। पूर्व केन्द्रीय मंत्री चरणदास महंत एक दिन नर्मदा यात्रा में शामिल होंगे।

                                               बिलासपुर संभागीय प्रवक्ता अभय नारायण राय ने बताया कि मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह पिछले 5 माह से सपत्निक नर्मदा परिक्रमा यात्रा पर है। 9 मार्च को दिग्विजय सिंह छत्तीसगढ़ की सीमा में प्रवेश करेंगे। यात्रा में शामिल सभी लोगों का प्रदेश के दिग्गज कांंग्रेस नेता स्वागत करेंगे। दिग्विजय सिंह का स्वागत करने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल, टी.एस.सिंहदेव 8 मार्च को रायपुर से सारनाथ एक्सप्रेस से रवाना होकर पेण्ड्रा रोड पहुंचेंगें।

                  अभय ने बताया कि बिलासपुर जिले के पदाधिकारी प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव, जिला अध्यक्ष ग्रामीण विजय केशरवानी, शहर अध्यक्ष नरेन्द्र बोलर, पूर्व जिला अध्यक्ष राजेन्द्र शुक्ला, महेश दुबे, रामऱषरण यादव, कृष्ण कुमार यादव के संयुक्त नेतृत्व में सभी ब्लाक अध्यक्ष, जिला एवं षहर के पदाधिकारी 9 मार्च को गौरेला पहुंचकर प्रदेष अध्यक्ष के साथ नर्मदा परिक्रमा यात्रा में शामिल होंगे। इस दौरान दिग्विजय सिंह और यात्रियों का आत्मीय स्वागत करेंगे।

                              अभय के अनुसार  दिग्विजय सिंह 9 मार्च की रात्रि और 10 मार्च को अमरकंटक में रूकेंगें। पूर्व केन्द्रीय मंत्री डाॅ.चरणदास महंत 10 मार्च को यात्रा में शामिल होंगे।  मरवाही ब्लाक अध्यक्ष मनोज गुप्ता, पेण्ड्रा ब्लाक अध्यक्ष अमोल पाठक, गौरेला ब्लाक अध्यक्ष प्रषांत श्रीवास अपने साथियों समेत सैकड़ों कार्यकर्ता यात्रियों का भव्य स्वागत कर यात्रा को यादगार बनाएंगे। प्रदेश महामंत्री अटल श्रीवास्तव ने जिले और शहर कांंग्रेस पदाधिकारियों को 9 मार्च  सुबह 9 बजे गौरेला रेस्ट हाउस पहुंचने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *