PNB घोटाला:गीतांजलि समूह के वाइस प्रेसीडेंट विपुल चितालिया गिरफ्तार

Pnb Scam, Ed, Mehul Choksi Properties, Nirav Modi, Pnb Scam,नईदिल्ली।पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) घोटाले में सीबीआई ने मंगलवार को गीतांजलि ग्रुप के वाइस प्रेसिडेंट (बैंकिंग ऑपरेशंस) विपुल चितालिया को गिरफ्तार कर लिया गया।चितालिया के बैंकॉक से लौटने के बाद सीबीआई उसे मुंबई हवाईअड्डे से ही पूछताछ के लिए लेकर चली गई थी।आभूषण कारोबारी नीरव मोदी के साथ चोकसी पर करीब 12,600 करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाले का आरोप है। इसी घोटाले में अतिरिक्त 1,300 करोड़ रुपये की गड़बड़ी का 26 फरवरी को खुलासा हुआ था।सीबीआई ने 14 फरवरी को नीरव मोदी, उनकी पत्नी एमी, भाई निशाल मोदी, मेहुल चोकसी और उनकी कंपनियों डायमंड आर यूएस, सोलर एक्सपोर्ट्स और स्टेलार डायमंड के खिलाफ पहली प्राथमिकी (एफआईआर) दर्ज की थी।मोदी, उनका परिवार और चोकसी जनवरी के पहले सप्ताह में ही देश छोड़कर फरार हो गए थे।सीबीआई ने चोकसी के गीतांजलि समूह के खिलाफ 4,886.72 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी को लेकर 15 फरवरी को दूसरी प्राथमिकी दर्ज की थी।

गंभीर धोखाधड़ी जांच कार्यालय (SFIO) ने मंगलवार को ICICI बैंक की CEO चंदा कोचर और Axis बैंक की एमडी शिखा शर्मा को समन भेजा है।ऐसा माना जा रहा है कि पिछले साल आईसीआईसीआई बैंक ने गीतांजलि जेम्स के चोकसी को 1,000 करोड़ रुपये और एक्सिस बैंक ने 700 करोड़ रुपये का कर्ज दिया था। इन दोनों के अलावा पीएनबी के एमडी सुनील मेहता को भी समन भेजा गया है। फायरस्टार के प्रेसिडेंट (फाइनेंस) विपुल अंबानी समेत 6 आरोपी सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेश किए गए। कोर्ट ने उन्हें 19 मार्च तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। सीबीआई ने 20 फरवरी को फायरस्टार के प्रेसिडेंट विपुल अंबानी, सीनियर एग्जीक्यूटिव अर्जुन पाटिल, असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव कविता मनकिकर, नक्षत्र के चीफ फाइनेंशियल ऑफिसर कपिल खंडेलवाल, मैनेजर नितेन शाही और जनरल मैनेजर राजेश जिंदल को हिरासत में लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *