साल भर बाद पकड़ाया बिजली चोर…1 लाख रूपए की पेनाल्टी से बचने गांव से था फरार..होली में पकड़ाया

बिलासपुर— पुलिस की विशेष अनुंसधान इकाई ने फरवरी 2017 से फरार बिजली चोर को पूरे एक साल बाद उसी के घर गिरफ्तार किया है। पकडे गए आरोपी का नाम गिरधारी पिता स्वर्गीय कल्याण पटेल है। गिरधारी रायगढ़ जिला के सारंंगढ थाना रामटेक गाव का रहने वाला है। एक लाख रूपए की चोरी की बिजली जलाने का आरोप है। गिरधारी के खिलाफ दिसम्बर 2016 मेंं अपराध दर्ज किया गया था। इसके बाद वह फरार चल रहा था।

                                      बिलासपुर विशेष अनुसंधान पुलिस ईकाई की टीम ने डीएसपी प्रवीण राय और एसआईयू प्रभारी की अगुवाई में बिजली चोर को एक साल बाद उसके ही घर से धर दबोचा है।

           पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 26 दिसम्बर 2016 में सारंगढ सीएसईबी जूनियर इंजीनियर को जानकारी मिली कि गिरधारी पटेल भारी ऊर्जा की खपत हुकिंग से कर रहा है। सीएसईबी जूनियर इंजीनियर भारत भूषण जायवाल ने खबर को सही पाते हुए गिरधारी को रंंगे हाथों पकड़ा। मौके पर गिरधारी हुंकिंग कर तीन महीने से खेतों की सिचाई में मोटर चला रहा था। जेई ने तीन महीने का एक लाख रूपए बिल बनाया। मोटर पंप और तार जब्त कर सारंगढ़ थाना के हवाले कर दिया। जेई की शिकायत पर थाने में एफआईआर भी दर्ज किया गया।

                  शिकायत के बाद गिरधारी गांव से फरार हो गया। आईजी दीपांशु काबरा के निर्देश पर पिछले 20-25 दिनों से पुलिस गिरधारी की तलाश कर रही थी। इसी दौरान जानकारी मिली कि आरोपी होली मनाने गांव आया है। डीएसपी प्रवीण राय और विेशेष अनुसंधान ईकाई के प्रभारी डी.के.कुर्रे की अगुवाई में गिरधारी के घर में पुलिस ने दबिश दी। ठीक होली के दिन गिरधारी को पकड़ कर थाने का हवाले कर दिया गया।

                                           पुलिस के अनुसार इसके पहले भी विशेष अनुसंधान इकाई ने चिटफंड के फाड़ में तमनार के चन्द्रहास देवांगन पुसौर थाना के मामले में परीक्षित पटेल को गिरफ्तार किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *