जिला पंचायत में पदोन्नत की गूंज..अधिकारियों से नरम और गरम चर्चा..हेमेन्द्र ने कहा..हमें न्याय चाहिए

कांकेर– मंगलवार को जिला पंचायत कांकेर की परामर्शदात्री समिति की बैठक में शिक्षाकर्मियों की पदोन्नति और सीपीएस समेत अन्य मुद्दों को सदस्यों ने प्रमुखता से उठाया। शिक्षाकर्मी संगठन के नेताओं ने मुद्दा उठाए जाने पर सबका स्वागत किया है। बैठक में छत्तीसगढ़ पंचायत नगरी निकाय शिक्षक संघ के पदाधिकारियों के अलावा पंचायत के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। खासतौर पर नगरीय निकाय शिक्षक संघ के अध्यक्ष हेमेन्द्र साहसी ने शिक्षाकर्मियों की बातों को प्रमुखता के साथ रखा।

                           मंगलवार को जिला पंचायत कांकेर में आयोजित परादमर्श समिति की बैठक में शिक्षाकर्मियों के बहुप्रतीक्षित मांगों पर विचार विमर्श किया गया। इस दौरान नकरीय निकाय शिक्षक संघ के पदाधाकारियों के अलावा अध्यक्ष हेमेन्द्र साहसी भी मौजूद थे।

           नगरीय निकाय शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष हेमेन्द्र साहसी ने बताया कि बैठक में परामर्शदात्री समिति के साथ अधिकारियों के बीच अच्छे माहौल में  बातचीत हुई। इस दौरान शिक्षाकर्मियों का सीपीएस प्राण नंबर जनरेट करने, कटौती अनुसार राशि अकाउंट में जमा होने, मृत शिक्षकों के अंशदान राशि ब्याज देने समेत अन्य बिन्दुओं पर चर्चा हुई। जिन शिक्षकों का परमानेंट रिटायरमेंट अकाउंट नंबर नहीं बनाया गया है उन्हें ऑनलाइन आवंटन दिए जाने की बात को को प्रमुखता के साथ सामने रखा गया।

             हेमेन्द्र साहसी ने बताया कि चर्चा के दौरान सदस्यों ने शिक्षक पंचायत पद पर पदोन्नति सहायक शिक्षकों  की वरिष्ठता सूची को 31 मार्च 2018 की स्थिति में जिला पंचायत में पेश किये जाने को कहा गया ।  दावा आपत्ति बाद अंतिम सूची जारी कर अप्रैल में  पदों की गणना के बाद पदोन्नति सूची जारी करने का आश्वासन जिला पंचायत प्रशासन ने दिया।

                    डीए समयमान पुनरीक्षित वेतनमान, लंबित एरियर्स राशि भुगतान के लिए आवश्यक मांग पत्र और अनुमति जिला पंचायत को भेजने पर देने की बात सामने आयी। जिला पंचायत अधिकारियों ने बताया कि निम्न से उच्च पद वाले शिक्षक पंचायत संवर्ग का आदेश जारी कर दिया गया है।  शेष शिक्षकोंं का आदेश भी जल्द ही जारी कर दिया जाएगा।

                                  साहसी ने बताया कि चर्चा के दौरान समयमान और पुनरीक्षित वेतनमान में प्रशिक्षण की अनिवार्यता होने पर न्यायालय के निर्देश के अनुसार समयावधि पूरी होते ही वेतनमान लागू करने के संबंध में मार्गदर्शन के लिए संचालक को पत्र लिखा जाएगा। 9 मृत शिक्षाकर्मियों के एनएसडीएल राशि का भुगतान किया जा चुका है। आवेदन मिलने के बाद बाकी लोगों का भुगतान ब्याज समेत करे का आश्वासन मिला है।

         साहसी के अनुसार विकासखंड कोयलीबेड़ा अंतागढ़ दुर्गकोंदल में प्राण नंबर के लिए प्रक्रिया जल्द पूरा होने का प्रशासन ने आश्वासन दिया है। स्टाफ कम होने पर कोयलीबेड़ा और कांकेर में लिपिक की पदस्थापना के लिए प्रस्ताव भेजे जाने का निर्णय पंचायत प्रशासन ने लिया है।

               साहसी ने बताया बैठक में संघ पदाधिकारियों ने पदोन्नति शिक्षाकर्मियों पर सीधी भर्ती वालों के संशोधन मनमाने तौर से किए जाने पर आपत्ति की है। बी.लीब. बीपीएड योग्यता धारियों का पदोन्नति ग्रंथपाल और व्यायाम शिक्षक के पद पर शीघ्र करने की बात संघ ने प्रमुखता से उठाया। जिला पंचायत में पति-पत्नी प्रकरण और स्वास्थ्यगत कारणों से स्थांनातंरण नहीं किए जाने को प्रमुखता से रखा गया। अतिशेष शिक्षाकर्मियों का 11 महीने का वेतन लंबित होने पर न्यायालय के निर्देशानुसार वेतन भुगतान की बात जिला पंचायत अधिकारियों ने कही है। जिला पंचायत से पदोन्नति  शिक्षक पंचायत का बिना काउंसलिंग पदस्थापना पर आपत्ति को प्रमुखता से उठाया गया। बैठक की सूचना  लिखित में नहीं मिलने की बात को लेकर नाराजगी जाहिर की गयी है।

                बैठक में मुख्य रुप से छत्तीसगढ़ पंचायत नगरीय निकाय शिक्षक संघ के प्रदेश संगठन सचिव  हेमेंद्र साहसी जिलाध्यक्ष स्वदेश शुक्ला उपाध्यक्ष डुमेंद्र साहू  सत्य नारायण नायक गणेश रवानी ,रवि प्रकाश, लीलेश्वर महोबे ,परमानंद पाल, नितेश उपाध्याय  समेत  अन्य संघ के पदाधिकारी मौजूद थे। इस दौरान अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी  कुर्रे  डीएमसी गुप्ता  सहायक संचालक  राजेंद्र ठाकुर एपीसी   आर सिन्हा सहायक परियोजना अधिकारी देवांगन समेत विकासखंड शिक्षा अधिकारी और शाखा प्रभारी NSDL प्रभारी  संतोष  राठौर विभागीय  शाखा प्रभारी विजया तथा रवि चतुर्वेदी विशेष रूप से उपस्थित थे

Comments

  1. By Hemendra Sahasi

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *