किसने कहा अजीत जोगी पैराशूट नेता…जनता ने कभी नहीं किया पसंद…अब घूम घूम कर सुना रहे लतीफा…

बिलासपुर— आम आदमी पार्टी नेता और सीबीआई के पूर्व मजिस्ट्रेट प्रभाकर ग्वाल ने जनता कांग्रेस अध्यक्ष अजीत जोगी पर हाथ धोकर निशाने पर लिया है। आप के एसटी एससी प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष ग्वाल ने कहा कि अजीत जोगी कभी भी ना तो जनता के और ना ही विधायकों के पसंद वाले नेता थे। उन्हें सोनिया गांधी ने पैराशूट से छत्तीसगढ़ में उतारा था। अब वही पैराशूट नेता सोनिया और राहुल की बुराई करते नहीं अघा रहे हैं। ग्वाल ने जोगी को प्रदेश के आदिवासियों का सबसे बड़ा दुश्मन बताया है।

                आम आदमी पार्टी एससी एसटी प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष प्रभाकर ग्वाल ने अजीत जोगी को प्रदेश का आदिवासी विरोधी नेता बताया है। प्रभाकर ग्वाल ने प्रेस नोट जारी कर बताया कि अजीत जोगी कभी भी जनता पसंद नेता नहीं थे। ना ही विधायकों को पसंद थे। लेकिन सोनिया गांधी ने जोगी को पैराशुट से प्रदेश में उतारा और देखते ही देखते जोगी ने अपने आप को आदिवासियों का रहनुमा बना लिया। सच्चाई तो यह है कि जोगी ने प्रदेश के आदिवासियों को अपमानित किया है। सोनिया को भी धोखा दिया है।

                                      सीबीआई के पूर्व मजिस्ट्रेट ने बताया कि छत्तीसगढ़ में सत्ता पर काबिज होने के लिए अजित जोगी इन दिनों प्रदेश में घूम घूमकर अकबर बीरबल के लतीफे सुना रहे हैं। कभी चांदी की सड़क बनाने का एलान करते हैं तो रमन के खिलाफ बायन देते हैं। कभी कहते हैं कि कांग्रेस के 18 विधायक जनता कांग्रेस में शामिल होंगे।

               आम आदमी पार्टी नेता प्रभाकर ग्वाल ने कहा कि जनता जानना चाहती है कि  कांग्रेस के 18 विधायकों को जनता कांग्रेस में शामिल करने का दावा करने वाले अजीत जोगी बताएं कि क्या उनमें रेणु जोगी का भी नाम है। जनता यह भी जानना चाहती है कि आखिर रेणु जोगी को कांग्रेस पार्टी में क्यों बनाकर रखा गया है। क्या उन्हें घर की पार्टी पर भरोसा नहीं है। या फिर कुछ और भी कारण हैं। उनको ऐतबार क्यो नही है?

                          आखिर क्या वजह है कि रोज हजारों की तादाद में नए लोगो को जनता कांग्रेस में जोड़ने का दावा किया जा रहा है। लेकिन घर के सदस्य को घर की पार्टी से ही दूर रखा गया है। इसकी वजह क्या है जोगी को बताना चाहिए। तंज कसते हुए ग्वाल ने कहा कि जोगी हमेशा बयान देते हैं कि कांग्रेस पार्टी खराब है..फिर कोटा विधायक को कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दिलवाकर जनता कांग्रेस में शामिल क्यों नही कर लेतें हैं।

                                                   जोगी पर निशाना साधते हुए प्रभाकर ग्वाल ने कहा कि अदालते सुनवाई करने में समय लगा सकती हैं..लेकिन जनता की अदालत में फैसला तत्काल होता है। क्योंकि बार बार बायनबाजी से ना तो जनता का भला होने वाला है और ना ही जोगी कांग्रेस का।

कुछ

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *