छत्तीसगढ़ में कौशल विकास के लिए ऑस्ट्रेलिया के क्यूएसईसी के साथ एमओयू

3E5ED8E294FBA049FC8CA30B29FEF9A4रायपुर।मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के ऑस्ट्रेलिया प्रवास के दौरान आज ब्रिस्बेन में छत्तीसगढ़ में कौशल विकास के लिए राज्य सरकार और आस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड स्किल्स एंड एजुकेशन कंसोर्टियम (क्यूएसईसी) के साथ समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए गए। छत्तीसगढ़ में स्किल्स डेवलपमेंट अथारिटी (सीएसएसडीए) कौशल उन्नयन का कार्य कर रही है, इसी सिलसिले में क्वींसलैंड स्किल्स एंड एजुकेशन कंसोर्टियम (क्यूएसईसी) के साथ यह एमओयू किया गया है। क्वींसलैंड स्किल्स एंड एजुकेशन कंसोर्टियम (क्यूएसईसी) छत्तीसगढ़ में छत्तीसगढ़ स्किल्स डेवलपमेंट अथारिटी के साथ मिलकर खनन, इंजीनियरिंग एंड आटोमोशन, कंस्ट्रक्शन, आटोमोटिव, हास्पिटालिटी एंड टूरिज्म सेक्टर्स में प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित करेगा।

आस्ट्रेलियन रिटेल कालेज (क्यूएसईसी का सदस्य) की आपरेशन मैनेजर श्शोरेन रीड ने क्यूएसईसी की ओर से तथा छत्तीसगढ़ सरकार की ओर से वाणिज्य एवं उद्योग विभाग के सचिव डॉ.कमलप्रीत सिंह ने एमओयू पर हस्ताक्षर किये। मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ में कौशल क्षेत्र के उन्नयन के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर करने और इसके विकास में भागीदारी के लिए शोरेन रीड को बधाई दी।

क्वींसलैंड स्किल्स एंड एजुकेशन कंसोर्टियम छत्तीसगढ़ में प्रशिक्षकों के लिए भी प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करेगा। शुरूआत में क्यूएसईसी रायपुर जिले में पायलट प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित करेगा, इसकी सफलता के बाद इसे विस्तारित करते हुए बिलासपुर, दंतेवाड़ा, कोरबा, राजनांदगांव आदि जिलों में वह निजी और सार्वजनिक दोनों ही क्षेत्रों में कौशल विकास और प्रशिक्षण की सुविधा प्रदान करेगा। क्यूएसईसी राज्य में व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदाता (वीटीपीज) को गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण की सुविधा भी प्रदान करेगा। वह राज्य में उत्कृष्टता केंद्र (सीओई) की स्थापना भी करेगा।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार द्वारा छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में लाइवलीहुड कालेज की स्थापना की गई है। छत्तीसगढ़ में तीन लाख से ज्यादा युवाओं को प्रशिक्षित किया जा चुका है। छत्तीसगढ़ में 26 हजार से ज्यादा व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदाता (वीटीपीज) हैं। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव अमन कुमार सिंह और छत्तीसगढ़ सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे।