ट्रैंकिग शिविर में जुटेंगे प्रकृतिप्रेमी…जैव विविधता पर रहेंगे फोकस…जंगल से देंगे मंगल संदेश

IMG-20171215-WA0015बिलासपुर— शिवतराई अचानकमार में एक दिवसीय प्रकृति ट्रेनिंग सह ट्रेकिंग कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। ट्रेकिंगं कैम्प में वन संपदा और जैविक विविधाओं की जानकारी दी जाएगी। साथ ही प्राकृतिक संपत्ती को संरक्षित रखने के बारे में भी बताया जाएगा। प्रेस कान्फ्रेन्स में यह जानकारी यूथ हास्टल के पदाधिकारियों ने दी। पदाधिकारियों ने बताया कि एक दिवसीय ट्रेकिंग कैम्प में पेशेवर लोगों के अलावा प्रकृति प्रेमी भी शामिल होंगे।

                यूथ हास्टल एसोसिएशन और आधारशिला विद्या मंदिर के सहयोग से 17 दिसम्बर रविवार को एक दिवसीय ट्रैकिंग कैम्प का आयोजन किया जाएगा। शिविर में विशेषज्ञ प्रकृति प्रेमी ट्रेकिंग और प्राकृतिक संपदा संरक्षण की जानकारी देंगे। प्रकृतिप्रेमियों और जानकारों के दिशा निर्देश में जैविक विवधाओं के संरक्षण पर भी विचार रखा जाएगा। यूथ हास्टल के सदस्य प्राकृतिक संपदाओं के संरक्षण के बारे में भी बताएंगे।

              प्रेसवार्ता में यूथ हॉस्टल के चेयरमैन अखिलेश चन्द्र वाजपेयी ने बताया कि ट्रेकिंग कैम्प में शामिल होने इच्छुक लोग विशेष वाहन से पटैता जाएंगे। पटैता से ही ट्रेकिंग की शुरुआत होगी। पटैता से नकटीबांधा जंगल होते हुए ट्रेकिंग करने वाले करडीहा, सरायपाली के जंगल से होकर शिवतराई जंगल पहुंचेंगे। इस दौरान लोगों को प्रकृति का आनंद भी लेंगे।

                        बाजपेयी और यूथ हॉस्टल अध्यक्ष समीर सिंह ने पत्रकारों को बताया कि ट्रेकिंग के बाद दल शिवतराई स्थित जंगल मितान परिसर में भोजन के बाद दोपहर में सांस्कृतिक कार्यक्रम में शामिल होंगे। प्रकृति संरक्षण और सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन दोपहर 2 बजे से साढ़े चार बजे के बीच किया जाएगा।

          पत्रकार वार्ता में  अखिलेश चन्द्र वाजपेयी,समीर सिंह के अलावा आभा कौर,शैलेश शुक्ला,अक्षय जैन,डॉ.अजय श्रीवास्तव, केशव वाजपेयी,पुष्पेन्द्र पाण्डेय, अच्युत तिवारी, और दिपेन्द्र पाढ़ी विशेष रूप से मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *