दो दिन में शुरू होगा दगौरी इंडस्ट्रियल एरिया का सर्वे 

 

dagouri

बिलासपुर  । जिला कलेक्टर  सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी ने उद्योग विभाग द्वारा ग्राम दगौरी में प्रस्तावित वृहद औद्योगिक क्षेत्र निर्माण के सिलसिले में गुरूवार को  क्षेत्र का दौरा किया और उद्योग विभाग के अधिकारियों से चर्चाकर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

कलेक्टर ने दगौरी में प्रस्तावित औद्योगिक क्षेत्र के लिए एक चक में सर्वें करने के निर्देश दिए है। इस प्रस्तावित क्षेत्र में बिल्हा विकासखण्ड के 9 गांवों गोढ़ी, उड़गन, भैंस बोड़, किरारी गोढ़ी, डोड़की, पेण्डरवा, सम्बलपुरी, धौंराभाठा तथा केंवची ग्रामों को शामिल करते हुए 2000 एकड़ क्षेत्र में वृहद औद्योगिक क्षेत्र का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए 500 एकड़ शासकीय भूमि और लगभग 1300 एकड़ निजि भूमि का अधिग्रहण किया जायेगा। कलेक्टर ने भू-अर्जन की कार्यवाही प्रारंभ करने का निर्देश बिल्हा के एस.डी.एम. को दिया। कलेक्टर ने प्रस्तावित औद्योगिक क्षेत्र के नक्शे का अवलोकन किया तथा उद्योग विभाग को निर्देशित किया कि औद्योगिक क्षेत्र को चौकोर आकार में प्रस्तावित करते हुए इसके लिए सर्वें प्रारंभ कराएं । उद्योगों के लिए जमीनों का तथा तर्क सगंत चिन्हाकन करें, ताकि भविष्य में किसी प्रकार की समस्या न हो। सर्वें का कार्य आगामी दो दिवस के भीतर उद्योग विभाग एवं राजस्व विभाग की टीम प्रारंभ करेगी। दगौरी रेलवे फाटक के दोनों ओर औद्योगिक क्षेत्र प्रस्तावित है। कलेक्टर ने एसडीएम, तहसीलदार पटवारी एवं उद्योग विभाग के अधिकारियों के साथ स्थल का मुआइना भी किया और जरूरी निर्देश दिए।

      हॉस्टल का औचक निरीक्षण

कलेक्टर सिद्धार्थ कोमल परदेशी ने आज बिल्हा में अनुसूचित जाति प्री मैट्रिक छात्रावास का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान छात्रावास में गदंगी पर कलेक्टर ने अधीक्षक को कड़ी फटकार लगाई, साथ ही बिल्हा के एस.डी.एम और तहसीलदार पर भी इस संबंध में नाराजगी जताई और कहा कि छात्रावासों का सतत् निरीक्षण कर व्यवस्था में सुधार लाएं। अगली बार  जब भी वे आएगे तो उक्त छात्रावास का पुनः निरीक्षण करेगे तथा व्यवस्था संतोषजनक नहीं पाया तो अधीक्षक पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

कलेक्टर ने छात्रावास के प्रत्येक कमरे में जाकर वहाॅ का हाल जाना और उपस्थित छात्रों से बातचीत की। छात्रावास की साफ सफाई पुताई और बारिश से बचाव के लिए उचित प्रबंध करने तथा प्रत्येक कक्ष में लाइट, पंखे ठीक रखने के निर्देश दिए। मेस का निरीक्षण कर वहाॅ पड़े अनावश्यक वस्तुओं को हटाने और साफ-सुथरा रखने कहा। कलेक्टर ने अधीक्षक को छात्रावास में ही निवास करने की कड़ी हिदायत दी। छात्रों से पूछा कि उन्हें ठीक से भोजन व जरूरत पड़ने पर दवाईयां छात्रावास में मिलती है या नहीं। उन्होने उपलब्ध दवा पेटी का अवलोकन कर अधीक्षक से कहा कि  इन दवाओं का जरूरत के समय उपयोग हो।  निरीक्षण के दौरान एस.डी.एम बिल्हा श्री अर्जुन सिसोदिया, तहसीलदार, जनपद  पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी,  एव अन्य संबंधित लोग उपस्थित थे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *