दिव्यांग खिलाडियों को गांधी नगर में मिलेगी ट्रेनिंग

mantralay_rprरायपुर।राज्य सरकार के खेल और युवा कल्याण विभाग से जानकारी के अनुसार छत्तीसगढ़ के दिव्यांग खिलाड़ियों को एथलेटिक्स, पावर लिफ्टिंग और तैराकी में अपना कौशल दिखाने का सुनहरा मौका मिलेगा। भारतीय खेल प्राधिकरण द्वारा दिव्यांगों के लिए गुजरात की राजधानी गांधीनगर में आगामी वित्तीय वर्ष 2017-18 से खेल प्रशिक्षण केन्द्र शुरू किया जा रहा है, जहां इन खेलों में प्रशिक्षण के लिए 50 दिव्यांग खिलाड़ियों का चयन किया जाएगा। इसके लिए निर्धारित प्रारूप में आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं। आवेदन पत्र का प्रारूप राजधानी रायपुर, खेल एवं युवा कल्याण संचालनालय, समाज कल्याण संचालनालय और छत्तीसगढ़ पैरालम्पिक संघ के कार्यालय से प्राप्त ले सकते है।

                            खिलाड़ियों के चयन के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण (पश्चिमी केन्द्र) गांधीनगर (गुजरात) में 3 फरवरी से 05 फरवरी 2017 तक ट्रायल लिया जाएगा। इसके बाद खिलाड़ियों का मूल्यांकन शिविर 06 फरवरी से 12 फरवरी तक गांधीनगर में ही होगा। ट्रायल में शामिल होने के लिए खिलाड़ियों को दो फरवरी को गांधीनगर पहुंचना होगा। मूल्यांकन शिविर में भाग लेने वाले खिलाड़ी को यात्रा व्यय दिया जाएगा ।

                      साथ ही उनके आवास एवं भोजन की व्यवस्था एस.ए.आई. (साई) द्वारा की जाएगी। मूल्यांकन शिविर में चयनित खिलाड़ी  एसटीसी स्कीम के तहत आवश्यक दस्तावेजों के साथ प्रवेश कर सकेंगे। चयन ट्रायल में भाग लेने वाले खिलाड़ियों को यात्रा व्यय का भुगतान नहीं किया जाएगा।

                        योजना के तहत आवास एवं भोजन की सुविधा प्रति दिन प्रति खिलाड़ी 225 रूपए के मान से दिया जाएगा। हर खिलाड़ी को स्पोर्ट्स किट के लिये प्रति वर्ष पांच हजार रूपए दिए जाएंगे। प्रशिक्षण के अनुरूप खेल सामग्री देश एवं विदेशों में प्रतियोगिता के अवसर स्वास्थ्य सुविधा, बीमा सुविधा, नेशनल चैम्पियनशिप एवं अन्य राष्ट्रीय स्तर के टूर्नामेंट खेलने के अवसर चयनित खिलाड़ियों को उपलब्ध कराए जाएगें ।

                         दिब्यांग खिलाड़ियों को चेयर एवं दृष्टी बाधित खिलाड़ियों को आवश्यक सामग्री दी जाएगी। तीन खेलों के लिये 50 बालक-बालिकाओं का चयन किया जाएगा ।चयन ट्रायल में वर्ष 2014-15 एवं 2015-16 में पैरालम्पिक कमेटी ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त खिलाड़ी भाग ले सकेंगे । खिलाड़ी की आयु 12 से 18 वर्ष के बीच होनी चाहिए। जन्म प्रमाण पत्र नगर निगम, हॉस्पिटल, ग्राम पंचायत, पासपोर्ट या संबंधित संस्था का होना चाहिए । संबंधित खेल चयन ट्रायल में हिस्सा लेने के लिए विगत दो वर्ष 2014-15 व 2015-16 के प्रमाण पत्र तथा शासकीय अस्पताल से जारी दिव्यांग प्रमाण पत्र एवं अभिभावक या पालक का सहमति पत्र आवश्यक है। विस्तृत जानकारी संचालक, खेल एवं युवा कल्याण संचालनालय से ली जा सकती है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *