छग को दिल्ली नहीं… छजकांं जोगी सरकार चाहिए..अजीत

IMG20161126153827 बिलासपुर—IMG20161126154124 साइंस कालेज में आयोजित सर्वजन हिताय.सर्वजन सुखाय महासम्मेलन को देखने के बाद  अजीत जोगी ने कहां मुझे साइंस कालेज में ऐसी भीड़ कभी देखने को नहीं मिली। साइंस कालेज मैदान में जनसैलाब देखने के बाद विश्वास हो गया है कि जनता परिवर्तन चाहती ही।

                                                   जोगी ने कहा साइंस कालेज से मेरा गहरा रिश्ता है। मैदान के कोने कोने से वाकिफ हूं। लेकिन आज की भीड़ से जाहिर हो गया है कि लोगों को बाबा साहेब और भारतीय संविधान से किस हद तक प्यार है। जोगी ने पत्रकारों से मंच पर बातचीत के यह बातें कहीं।

                                प्रश्नों की झ़़ड़ी के बीच जोगी ने कहा कि आज छजकां ने साइंस कालेज में बाबा साहेब को याद करते हुए संविधान दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया। विशाल जन समूह को देखने के बाद अहसास हो गया कि लोग बाबा साहेब और भारतीय संविधान से बेइंतहां प्यार करते हैं। आज के ही दिन बाबा साहेब के संविधान को देश में लागू किया गया।

                                         वाणी राव ने कांग्रेस छोड़कर छजकां में प्रवेश लिया है के सवाल पर जोगी ने कहा कि वाणी राव ही नहीं बल्कि बृजेश साहू समेत सैकड़ों लोग अलग अलग विधानसभा क्षेत्र से हजारों कार्यकर्ताओं के साथ छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस पार्टी में प्रवेश लिया है। इनके प्रवेश से पार्टी मजबूत हुई है। प्रवेश का दौर चलता रहेगा। मैं सभी नव प्रवेशी नेताओं को शुभकामनाएं देते हैं। जोगी ने कहा कि बाबा साहेब सर्वधर्म प्रिया नेता रहे हैं…वे कल भी प्रासंगिक थे आज भी हैं। महासम्मेन में सभी धर्मों के लोग शामिल हुए हैं। छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस सभी की पार्टी है। सबके लिए काम करेगी और कर रही है। बाबा साहेब के चिंतन के अनुसार सर्वसमाज के हितों के लिए पार्टी काम करेगी।

क्या वाणी राव को पार्टी में कोई बड़ी जिम्मेदारी दी जाएगी के सवाल पर अजीत जोगी ने कहा कि किसी को किसी शर्त पर पार्टी में नहीं लाया गया है । लेकिन पार्टी में उन्हें काबिलियत और कद के अनुसार जिम्मेदारी दी जाएगी। IMG-20161126-WA0032

वाणी राव के छजकां में प्रवेश का क्या कारण हो सकते हैं..कांग्रेस पार्टी में …क्या उनकी उपेक्षा हो रही थी के सवाल पर जोगी ने कहा कि वाणी राव ने छजकां प्रवेश के पहले  कांग्रेस अध्यक्ष को लम्बा पत्र लिखा है। क्या लिखा है उसकी जानकारी आपको वाणी राव ही देंगी।

बाबा साहेब के नाम पर राजनीति हो रही है के सवाल पर जोगी ने कहा कि इसमे राजनीति की क्या बात हुई। हमारा अधिकार है..मौलिक कर्तव्य है। आज हम और आप यहां नहीं होते यदि बाबा साहेब ने संवैधानिक अधिकारी नहीं दिया होता….हमारा कर्तव्य बनता है कि संविधान दिवस पर उन्हें याद करें। उनके कार्यों को जन-जन तक पहुंचाये। उन्होने क्या किया इसकी जानकारी सबको हो..इसलिए संविधान दिवस के ही दिन बाबा साहेब के सिद्धान्तों के अनुरूप सर्वजन हिताय..सर्वजन सुखाय महासम्मेलन का आयोजन किया । महासम्मेल में हम बाबा साहेब को श्रद्धा सुमन भेंट करने के लिए एकत्रित हुए हैं।

साइंंस कालेज में आयोजित महासम्मेलन की भीड़ से छत्तीसगढ़ की राजनीति पर किस प्रकार का असर देखते हैं के सवाल पर जोगी ने कहा कि इस भीड़ से जाहिर हो चुका है कि परिवर्तन निश्चित है। भीड़ से मेरा घनिष्ठ रिश्ता है..लेकिन यह भीड़ कुछ अलग ही है।  भीड़ ने जाहिर हो चुका है कि प्रदेश की जनता संकल्प ले चुकी है कि छत्तीसगढ़ को दिल्ली से चलाने वाली सरकार नहीं बल्कि छ्तीसगढ़ जनता कांग्रेस जोगी की सरकार चाहिए। साल 2008 में ऐसा ही होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *