कांग्रेसियों के सामने पुलिस ने मानी हार

IMG-20150605-WA0005

बिलासपुर— शराब की अवैध बिक्री के खिलाफ गुरूवार को मुंगेली जिले के पथरिया में कांग्रेसी नेताओं ने गिफ्तारी दी। एक घंटे बाद गिरफ्तार सभी कांग्रेस नेताओं को निशर्त रिहा कर दिया गया। प्रशासन ने उनके मांग पर कार्यवाही करते हुए हवलदार पोखन सिंह को लाइन अटैच कर शराब दुकान मैनेजर को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया है।

         अवैध शराब बिक्री के खिलाफ गुरुवार को बिल्हा विधायक सियाराम कौशिक,मस्तूरी विधायक दिलीप लहरिया और पूर्व विधायक विधायक चंद्रभान वारमते समेत सैकड़ों कांग्रेसियों ने पथरिया में प्रदर्शन किया। इस मौके पर कांग्रेस नेताओं ने जिला प्रशासन और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए एक हवलदार पर शराब माफियों के पक्ष में काम करने का आरोप लगाया। कांग्रेसियों ने क्षेत्र में अवैध शराब बिक्री पर प्रतिबंध लगाने के साथ ही शराब दुकान संचालक को गिरफ्तार करने की भी मांग की। घंटो धरने पर डटे कांग्रेसियों ने हवलदार के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए गिरफ्तारी भी दी।

                       एक घंटे बाद में कांग्रेस नेताओं के सामने झुकते हुए जिला प्रशासन ने हवलदार पोखन सिंह को लाइन अटैच करते हुए सभी कांग्रेसियों को आश्वासन दिया कि जल्द ही दुकान संचालक को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। कांग्रेसियों ने जिला प्रशासन को बताया कि पथरिया थाने में तैनात हवलदार पोखन सिंह सरकार के लिए कम शराब माफियों के लिए ज्यादा काम करता है। क्षेत्र में शराब की अवैध बिक्री को उसने बढ़ावा दिया है। लगातार शिकायत के बाद भी पुलिस प्रशासन उसका बचाव कर रहा है। उग्र कांग्रेसियों के सामने अंत में जिला प्रशासन ने दोनों मांगों को स्वीकार करते हुए सभी कांग्रेसियों को बिना शर्त रिहा कर दिया। साथ ही आश्वासन दिया कि जल्द ही फरार दुकान संचालक को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *